दो करोड़ आया था केजरीवाल के पास, कहाँ से आया इसे जानने के लिए पसीना बहा रही खुफिया एजेंसी

भृष्टाचार को ख़त्म करने की बात करने वाली अरविंद  केजरीवाल की आम आदमी पार्टी एक बार फिर भृष्टाचार के आरोप में फसी हुई है. 2 करोड़ रुपए के चंदे  को लेकर आम आदमी पार्टी यानी आप की मुश्किलें बढ़ती जा रही है. निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग के तहत आम आदमी पार्टी को चंदा देने वाली चार कंपनियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. इन कंपनियों ने आम आदमी पार्टी को दो करोड़ रुपए का चंदा दिया था. कंपनियों ने 50-50 लाख के चेक के रूप में पार्टी को चंदा दिया था. सूत्रों के मुताबिक़ अब इस मसले पर आम आदमी पार्टी के नेताओ से पूछताछ की जायेगी.
 
आपको बता दें कि दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने 16 मई को सीबीआई में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आम आदमी पार्टी के चंदे में हेरा-फेरी, फर्जी कंपनियों के माध्यम से काले धन को सफेद करने और मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज कराया था. इसके बाद चंदा देने के मामले में एक नया मोड़ आया और मुकेश शर्मा नाम के एक शख्स ने एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में आप को 2 करोड़ रुपए चंदा देने की बात स्वीकार की.आम आदमी पार्टी पर चंदा लेने के आरोप तीन साल पहले लगे थे. 
ऐसे में तीन साल बाद मुकेश का सामने आना भी कम चौंकाने वाला नहीं था. दिल्ली के नॉर्थ-ईस्ट जिले के रहने वाले मुकेश शर्मा ने  एक हिंदी न्यूज चैनल पर चंदा देने की बात को कुबूला था.
Share This Post