बादल और रडार के मुद्दे पर आया उस जांबाज़ पायलट का बयान जिसने 1971 युद्ध मे पाकिस्तान पर बरसाई थी मौत


एक न्यूज चैनल को दिए साक्षात्कार में प्रधानमंत्री मोदी के एयर स्ट्राइक को लेकर ‘रडार विज्ञान’ वाले बयान को लेकर राजनैतिक घमासान मचा हुआ है. मोदी जी के राजनैतिक विरोधी जहाँ पीएम मोदी के बयान का मजाक उड़ा रहे हैं तो वहीं अब कई लोग पीएम मोदी के बयान के समर्थन में भी आगे आये हैं. समर्थन करने वालों का कहना है कि संभवत: एयर स्ट्राइक के समय बादलों की वजह से वायुसेना को फायदा मिला था.

सैलरी के बदले शरीर मांगता था वसीम.. युवती ने इंकार किया तो उसका किया ये हाल

बादल और रडार के मुद्दे पर मचे राजनैतिक घामासान के बीच अब 1971 युद्ध में पाकिस्तान पर मौत की बर्षा करने वाले भारतीय वायुसेना के जांबाज पायलट पूर्व एयर वाइस मार्शल आदित्य विक्रम पेठिया का बड़ा बयान सामने आया है. विक्रम पेठिया ने पीएम मोदी के बयान का समर्थन किया है. विक्रम पेठ‍िया ने बताया है क‍ि बादल और बार‍िश वाले मौसम में एयरक्राफ्ट उड़ाना हमेशा से चुनौतीपूर्ण रहा है और ऐसी स्थित‍ि से बचने की कोश‍िश की जाती है. छोटे-मोटे बादलों से तो रडार को ज्यादा फर्क नहीं पड़ता लेक‍िन यद‍ि घने बादल हैं तो लड़ाकू व‍िमानों की ब‍िल्कुल सही जानकारी म‍िलना कठ‍िन होती है.

हिन्दू युवक विष्णु कुमार को 2 उन्मादियो ने घेर कर पेट्रोल डाल कर जलाया.. घटना योगीराज उत्तर प्रदेश की

विक्रम पेठिया ने बताया कि ये कुछ इस तरह होता है क‍ि जब बार‍िश, आंधी, तूफान आता है तो कुछ समय के ल‍िए टीवी के स‍िग्नल भी ड‍िस्टर्ब हो जाते हैं तो घने बादलों के कारण विमानों की ठीक जानकारी मिलना कठिन हो जाता है. बता दें कि आदित्य विक्रम पेठिया 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान बीकानेर बॉर्डर के हवाई हमले में खुद शामिल थे. इस हमले में उन्हें युद्धबंदी बनना पड़ा था. इस दौरान उन्‍हें 5 महीने 3 दिन और 8 घंटे तक पाकिस्‍तान के कब्‍जे में रहना पड़ा था. जेल से रिहा होने के बाद उन्हें राष्ट्रपति वीवी गिरी ने 1973 में वीर चक्र से सम्मानित किया था.

भगत सिंह की प्रतिमा का हुआ शुद्धिकरण क्योंकि उसको छू दिया था प्रियंका वाड्रा ने.. आखिर किस ने किया ऐसा ?

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...