Breaking News:

आतंकियों के साथ खड़ी जमीयत के खिलाफ फराह फैज़ का बड़ा बयान.. बताया कि कौन है आतंकी ?

हाल ही में NIA तथा ATS द्वारा गिरफ्तार किये गये इस्लामिक आतंकी संगठन ISIS के नये मोड्यूल हरकत-उल-हर्ब-इस्लाम से जुड़े आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद जमीयत उलमा-ए-हिंद ने एलान किया है कि वह इन आतंकियों को कानूनी मदद मुहैया करायेगी. जमीयत उलमा-ए-हिंद द्वारा आतंकियों की मदद की घोषणा के बाद तीन तलाक की मुख्य याचिकाकर्ता व सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ अधिवक्ता फरहा फैज ने बड़ा बयान दिया है.

सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ अधिवक्ता फराह फैज़ ने जमीयत उलमा-ए-हिंद को आतंक की फैक्ट्री करार दिया है. फराह फैज़ ने कहा है कि जमीयत संदिग्ध आतंकियों को कानूनी मद्द दे रही है। क्योंकि यह लोग इसी फैक्ट्री का प्रोडक्ट (उत्पादन) है। रविवार को देवबंद में एक निजी कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचीं फरहा फैज ने एटीएस द्वारा दहशतगर्दी के इल्जाम में पकड़े गए मुस्लिम नौजवानों को कानूनी मद्द मुहैया कराने पर कहा कि जमीयत उलमा-ए-हिंद यदि ऐसे लोगों की मद्द नहीं करेगी तो यह जमीयत पर आंखें तरेरने लग जाएंगे। क्योंकि यह सारे प्रोडक्ट उन्हीं की फैक्ट्री से निकले हुए हैं.

फराह फैज़ ने कहा कि ऐसे लोगों के समर्थन के कारण ही आतंकवाद को बढ़ावा मिल रहा है. उन्होंने कहा कि जिन लोगों को जमीयत मदद देने का काम कर रही है, जाहिर है वो आगे चलकर भी इस तरह की गतिविधियों को अंजाम देंगे क्योंकि उनको पता है कि उनके आका मदद के लिए उनके पीछे खड़े हुए हैं. फरहा फैज ने कहा कि जमीयत ऐसे लोगों को किसी भी प्रकार की मद्द देकर स्वयं को बेनकाब कर रही है. उन्होंने यह भी कहा कि देश के बहुत से मदरसों को विदेशों से फंडिंग मिल रही है.

Share This Post