Breaking News:

राष्ट्रीय एकता और अखंडता का ज्ञान दे रहा पाक परस्त अब्दुल्ला, वो भी RSS को… देखो बह रही उल्टी गंगा

 नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने बीजेपी और आरएसएस को सलाह दी है कि गुजरात चुनाव के दौरान लोगों की भावनाओं के भड़काने की कोशिश न करें। उन्होंने कहा कि धार्मिक आधारों पर देश को बांटने का बढ़ता चलन राष्ट्र हित के लिए घातक है।

उन्होंने कहा कि धार्मिक आधार पर देश को बांटने की कोशिश देश की देश हित में नहीं है और इससे बचना चाहिये। उन्होंने गुजरात चुनाव में माहौल को सांप्रदायिक रंग देने पर चिंता जताई और कहा ‘भारतीय राजनीति में इसकी शुरुआत दुखद है’।एक बयान में उन्होंने कहा बीजेपी और आरएसएस को सलाह देते हुए कहा, खासकर चुनाव के समय में ‘जनता की भावनाएं और जुनून भड़काने’ से बाज़ आना चाहिये।

उन्होंने कहा कि देश को धार्मिक आधार पर विभाजित करने की कोशिश देशहित में नहीं है और ऐसी किसी भी प्रवृत्ति को रोका जाना चाहिये।

उन्होंने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि देश में मंदिर-मस्जिद के मसले को भड़का कर अपना राजनीतिक लाभ उठाने की कोशिश की जा रही है।और अब्दुला ने यह भी कहा राजनीतिक उद्देश्यों को साधने के लिए “मंदिर-मस्जिद” जैसे मुद्दों पर लोगों को लड़ाई के लिए भड़काने के प्रयासों की निंदा करता हूँ। और बोला कि देश के धर्मनिरपेक्ष ढांचे को बचाने की दिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बुराई को खत्म करने की पहल करनी चाहिए।

Share This Post