सेना के कैंप पर फिदायीन हमला, अलगाववादी नेता असिया अंद्राबी को किया गया गिरफ्तार

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा के आर्मी कैंप पर एलओसी के पास पंजगाम में फिदायीन हमला हुआ है। बताया जा रहा है कि इस हमले में तीन जवान वीरगति को प्राप्त हो गए। घायल जवानों का इलाज श्रीनगर आर्मी अस्पताल में चल रहा है। इसके साथ ही जवानों ने 5 फिदायीन को भी मार गिराया है। सुत्रों से पता चला है कि इलाके में अभी भी कुछ हमलावर छुपे हुए है लगातार फायरिंग कर रहे है। 
सूत्रों के मुताबिक, आज सुबह 4 बजे आतंकियों ने आर्मी कैंप में घुसने की कोशिश की थी। फिर कैंप पर हमला के दौरान सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है और सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है। इस बीच अलगाववादी नेता असिया अंद्राबी को भी गिरफ्तार किया गया। बता दें कि पंजगाम श्रीनगर से 87 कि.मी. तो पाकिस्तान के कब्जे वाले पीओके से करीब 74 कि.मी. दूर है। रक्षा विशेषज्ञ राज कादयान ने कहा कि इस तरह के हमले को रोकने के लिए सख्त कदम उठाने की बहुत आवश्यक है। 
उन्होंने कहा कि यह इलाका एलओसी के नजदीक है, इसलिये यहां पर हमले बार-बार होते रहते है। इनको रोकने के लिए वहां जाना पड़ेगा जहां से हमले होते है, हमें पाकिस्तान के खिलाफ कड़ा एक्शन लेना ही पड़ेगा। वहीं, कुपवाड़ा हमले के बाद गृहमंत्रालय ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में यह बैठक आज सुबह 11 बजे होगी। इस बैठक में राजनाथ सिंह के अलावा गृह सचिन, जॉइंट सेक्रेटी जम्मू-कश्मीर, जम्मू कश्मीर के चीफ सेक्रेटरी, खुफिया विभाग के अधिकारी सहित गृह मंत्रालय के दूसरे अधिकारी मौजूद होगें।
Share This Post