Breaking News:

रंग लाई सुदर्शन न्यूज की मुहिम, इमाम बरकती पर भड़काऊ फतवे को लेकर दर्ज हुई एफआईआर

नई दिल्ली : अगर कोई देश के खिलाफ आपको भड़काए, आपके धर्म पर चोट पहुंचाए। हिन्दुस्तान में रहकर हिन्दू और मुसलमानों को आपस में लड़ाने की सोचे और तो और गुंडागर्दी पर उतर आए तो आप उसके साथ कैसा व्यवहार करेंगे। जाहिर है ये सब सुनकर आप भी गुस्से से लाल हो उठे होंगे।

ऐसा ही एक शख्स है जो कोलकाता की टीपू सुल्तान मस्जिद में सरेआम बेखौफ होकर अपनी मनमानी कर रहा है और ममता सरकार ने उसे रोकने की बजाय उसे शह दे रखी है। जी हां इस शख्स का नाम है इमाम सैयद मोहम्मद नूरूर रहमान बरकती है। सुदर्शन न्यूज लगातार देश की जनता और सरकार को बरकती के कारनामों का काला चिट्ठा खोलता आ रहा है कि वो कितना बेरहम है। बेकसूर और सीधे साधे हिन्दू और मुसलमानों को भड़काने की कोशिश करता आया है।

सुदर्शन न्यूज ने बताया कि बरकती पर केन्द्र के आदेश की अवहेलना करने और गलत बयानबाजी करने का आरोप है। बरकती ने पीएम मोदी के वीवीआईपी कल्चर खत्म करने की बात न मानते हुए गाड़ी से लालबत्ती हटाने इनकार कर दिया था। जिससे नाराज सूरज कुमार सिंह नाम के एक शक्स ने टोपसिया इलाके में केस दर्ज करवाया है। आपको बता दें कि लालबत्ती पर मौलाना ने कहा था कि मैं एक धार्मिक नेता हूं, और कई सालों से लाल बत्ती का इस्तेमाल कर रहा हूं, मैं केन्द्र का आदेश नहीं मानता हूं, मुझे आदेश देने वाले केन्द्र कौन होता है।

उधर पश्चिम बंगाल बीजेपी ने केन्द्र सरकार का आदेश नहीं मानने के लिए मौलाना बरकती की कड़ी आलोचना की है और राज्य सरकार से उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। वहीं, भड़काऊ फतवा जारी करने वाले बरकती को लेकर सुदर्शन न्यूज की मुहिम रंग लाई और बरकती के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। इसके साथ ही बरकती के खिलाफ कार्रवाई होना करोड़ों हिन्दुओं, राष्ट्रीय स्वयं सेवस संघ समेत उन मुसलमानों के लिए भी अच्छी खबर है जो बरकती की बेतुकी बयानबाजी और भड़काऊ भाषण से परेशान थे।

Share This Post