“शाबास चंदौली पुलिस”.. पहली बार पुलिस ने दबोचा श्रीराम के नाम की अफवाह उड़ाने वालों को… नायक बने SP संतोष कुमार सिंह

ये वो कार्य है जिसके लिए आवाज उठाई जा रही थी हर तरफ से .. ये वो पराक्रम था जो अगर पहले कही अन्य स्थानों पर दिखाया गया होता तो आज अफवाहों का बाजार गर्म करने वालों की हिम्मत न होती दुस्साहस करने की . लेकिन अंत में ये कहना जरूरी होगा कि देर आये दुरुस्त आये और आख़िरकार बिहार की सीमा से लगे चंदौली जनपद की पुलिस ने वो कार्य किया है जो बन गया है एक नजीर पूरे भारत भर के पुलिस बल के लिए. अब कम से कम चंदौली में किसी में साहस नहीं होगा अफवाह उड़ा कर माहौल खराब करने का .

जंतर मंतर पर मीम सेना कर रही थी 3 तलाक और मॉब लिंचिंग के विरोध में प्रदर्शन.. अचानक वहां लगने लगे “जय श्री राम” के नारे

विदित हो कि हिन्दू समाज के लिए सबसे बड़े आराध्य और पूज्यनीय प्रभु श्रीराम के नाम को जिस प्रकार से साजिश के साथ बदनाम करने की कोशिश की जा रही थी उस पर एक बड़ा ब्रेक चंदौली से लगा है . सुदर्शन न्यूज ने बहुत पहले 10 ऐसे मामले बताये थे जिसमे श्रीराम के नाम की अफवाह उड़ा कर समाज में अशांति फैलाने की कोशिश की गई थी . चंदौली में कुछ ऐसा ही करने का दुस्साहस किया गया था लेकिन वो दुस्साहस आखिरकार पस्त हो गया है पुलिस की अटल इच्चाश्क्ति के आगे .

एक और भारतीय मुस्लिम लड़की का निकाह होने वाला है एक और पाकिस्तानी क्रिकेटर के साथ

ध्यान देने योग्य है कि खुद से खुद को आग लगा लेने वाले मुस्लिम लड़के के मामले में पहले तो चंदौली पुलिस ने तमाम ट्विटर और सोशल मीडिया के अफवाहबाजों को व्यक्तिगत रूप से जवाब दिया और अब इस अफवाह की जड़ में छिपे 3 साजिशकर्ताओं को गिरफ्तार कर के इतना संदेश दे दिया है कि उत्तर प्रदेश पुलिस किसी भी अपराध के दोषी को माफ़ नहीं करने वाली.. न हाथो से अपराध करने वाले को और न ही दिमाग से अपराध करने वालों को ..

बिजनौर में हुनमान जी के पवित्र पंचमुखी मन्दिर पर हमला. तोड़ दी माँ भवानी की मूर्ति. माथे पर तिलक लगा कर पहुचे थे आदिल और शादाब

इस महान कार्य के अगुवा बने हैं चंदौली पुलिस के वर्तमान पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह और उनके सहायक के रूप में सामने आये DSP त्रिपुरारी पाण्डेय जिन्होंने न सिर्फ मामले को भडकने नहीं दिया बल्कि भारत के सर्वोच्च स्तर तक सप्रमाण सफाई दी और तमाम लोगों को संतुष्ट किया .. अब उसी चंदौली पुलिस ने इस मामले की अफवाह उड़ाने वाले 3 साजिशकर्ताओं को दबोच लिया है . माना जा रहा है कि ये भारत में पहली कार्यवाही है जिसका हर तरफ स्वागत हो रहा है .

अड़ने और अकड़ने का बहुत गंदा इतिहास रहा है ZOMATO का. लखनऊ युनिवर्सिटी में कर चुके हैं मार पीट, सडक को कर चुके हैं जाम और इसके स्टाफ हंगामा काट चुके हैं थाने पर

सैदराजा थानाक्षेत्र की इस घटना में पुलिस टीम ने लगातार नजर रखी और अब उच्चाधिकारियों ने निर्देश थाना प्रभारी सैदराजा एस पी सिंह , सब इंस्पेक्टर आनंदीदीन , कांस्टेबल उमाकांत और कांस्टेबल पंकज यादव ने सही समय पर कार्यवाही करते हुए जाहिद , आजम और गुड्डू को गिरफ्तार कर लिया है . इन सभी को अपराध संख्या 139 / 19 में धारा 153 A , 295 A , 420 , 120 B , 182 व IT एक्ट 66 के तहत गिरफ्तार कर के जेल भेज दिया है.. चंदौली पुलिस के इस कार्य की हर तरफ खुल  कर प्रसंशा हो रही है साथ ही अब अन्य स्थानों की पुलिस द्वारा ऐसी ही कार्यवाही की आशा की जा रही है .  भारत के विभिन्न हिस्सों से आवाज आ रही है कि चंदौली पुलिस का एक एक स्टाफ निश्चित रूप से धन्यवाद का पात्र है ..

गिरफ्तार अभियुक्त –

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW