क्या कर रहे थे वो चार कश्मीरी जिन्हें पकड़ा गया है शक के आधार पर उत्तर प्रदेश में


विदित हो कि बीते दिनों आगरा में पुलिस ने एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया था । जिसने 26 जनवरी को भारत में हमला करने की बात पुलिस को बताई थी जिसको लेकर पुलिस सर्तक हो गई थी और पुलिस ने दिल्ली की कई मस्जिदों में ताबड़तोड़ छापेमारी भी की है। जिसके बाद से पुलिस उत्तर प्रदेश में कॉफी छानबीन में लगी हुई हैं। और अपनी इस छानबीन में पुलिस ने चार कश्मीरियों को पकड़ा है।

आपको बता दे कि उत्तर प्रदेश जनपद के मुख्यालय के भिनगा में श्रीवस्ती पुलिस ने शक के आधार पर चार कश्मीरियों को हिरासत में लिया है। जिनकी पहचान फिरोज अहमद पुत्र लियाकत, समीना पुत्र फिरोज अहमद, सुरैया पुत्री लतीफ अहमद निवासी हींगराजपुर थाना कुंजर जिला बारामुला, गौसिया पुत्री अब्दुल रशीद शाह निवासी कमूरा थाना मागम जिला बड़गाम राज्य कश्मीर के रहने वालों में हुई , इन सबने पुलिस को पुछताछ में बताया कि कशमीर में अधिक बर्फबारी होने के कारण वहां रोजगार ठप हो जाता है , भुखमरी के कारण यहाँ मांगने खाने के लिए आते है , हालाकि पुलिस नें काफी देर पुछताछ करने के बाद सबको छोड़ दिया , लेकिन पुलिस अभी भी उन पर अपनी नजरे गढ़ाए हुए है।

लेकिन यहाँ गोर करने वाली बात यह कि कश्मीरी मुस्लिमों के ऐसे पहले भी कई मामले सामने आ चुके है जो आतंकी सगंठनों के साथ मिलकर कई आतंकी घटनाऔं को अंजाम दे चुके है। ऐसे में पुलिस को बहुत ही सतर्कता से ऐसे लोंगों पर नज़र रखनी चाहिए कहीं इतने बड़े पैमाने में कश्मीरी मुस्लिम की आवा जाही आतंकी खतरे को बढ़ावा तो नहीं दे रही है। 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share