दंगाई ओवैसी ने कहा था कि- “15 मिनट के लिए पुलिस हटा दो”.. लेकिन गुजरात में मुसलमानों ने रमजान में मांगी अतिरिक्त पुलिस फ़ोर्स

आतंकियों का पैरोकार और गद्दारी का पर्याय बना ओवैसी का एक बयान अभी तक लोगों के जेहन में उतरा हुआ है जिसमे वो अपनी विचारधारा के कई उत्पातियो के आगे चिल्ला कर कहता है कि “15 मिनट के लिए पुलिस हटा दो” .. उस समय उसके चेहरे पर एक आतंकी के भाव थे और उसकी सोच वाले उन्मादियो ने वहां पर शोर मचाते हुए उसकी बात का समर्थन किया था .. लेकिन जब इन तमाम दावों की जमीनी पड़ताल तथ्यों पर की जाती है तो बहुत ज्यादा फर्क सामने आता है .

विदित हो कि मंगलवार से रमजान की शुरुआत हो रही है . ज्यादातर मुसलमान इस पर्व में दिन भर भूखे प्यासे रहते हैं और अपनी अकीदत के अनुसार कार्य करते हैं . इस बार गुजरात में वडोदरा के मुसलमानों ने रमजान में अपनी सुरक्षा आदि को ध्यान में रखते हुए सरकार से अतिरिक्त पुलिस फ़ोर्स देने की मांग की है . इस बावत मुसलमानों के एक प्रतिनिधि मंडल ने वडोदरा के पुलिस कमिश्नर से मिल कर अपनी मांग रखी और रमजान में अतिरिक्त सुरक्षा देने की बात कही ..

मुसलमानों के प्रतिनिधि मंडल ने पुलिस कमिश्नर से मुलाक़ात करते हुए कहा कि रमजान के चलते मुस्लिम बहुल इलाकों में सडको आदि पर दुकाने लगेंगी और वो देर रात तक खुली भी रहेंगी .. उन्होंने बताया कि इस से पहले भी पुराने वडोदरा के मुस्लिम बहुल इलाके में खाने पीने की दुकानों पर हिंसक वारदातें और साम्प्रदायिक उन्मादी हरकते हो चुकी हैं इसके चलते वो गुजरात पुलिस से उन स्थानों पर अतिरिक्त पुलिस फ़ोर्स की मांग करते हैं .. फ़िलहाल पुलिस उनकी मांग पर गम्भीरता से विचार कर रही है .

Share This Post