आतंकियों की पैरवी करने वाले पूर्व IAS शाह फैसल को इस्लामिक आतंकी दल हिजबुल ने दिया दिया आईना


हाल ही में IAS की नौकरी से इस्तीफा देकर राजनीति में उतरने का एलान करने वाले आतंकियों के पैरोकार शाह फैसल पर इस्लामिक आतंकी दल हिजबुल भड़क उठा है. इस्लामिक आतंकी दल हिज्बुल ने चिट्ठी जारी कर कश्मीरी लोगों से कहा है कि वे राजनीति में शाह फैसल का साथ न दें. आतंकी संगठन हिजबुल का कहना है कि शाह फैसल के राजनीति में आने के पीछे भारत सरकार की चाल है. शाह फैसल लोगों को गुमराह कर रहा है.

हिज्बुल मुजाहिदीन की चिट्ठी में लोगों से कहा गया है कि वह शाह फैसल का साथ न दें और राज्य में होने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनावों का बहिष्कार करें. हिज्बुल मुजाहिदीन ने शाह फैसल से पूछा है कि उन्होंने डॉक्टर मन्नान वानी का रास्ता क्यों नहीं अपनाया और राजनेताओं की टोली में शामिल हो गए? गौरतलब है कि शाह फैसल ने कुछ दिन पहले ही IAS की नौकरी छोड़कर मुख्यधारा की राजनीति में आने का ऐलान किया था.

हिजबुल से चिट्ठी के माध्यम से शाह फैसल से पूंछा है कि उसने राजनीति में उतरने का फैसला क्यों किया? अगर शाह फैसल को कश्मीर के लोगों के लिए कुछ अच्छा करना था तो उसको AMU में पढ़कर आतंकी दल में शामिल होने वाले मन्नान वानी का रास्ता अपनाना चाहिए था न कि राजनीति में आना चाहिये था.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...