प्रकाश राज बांट रहा हिंदुत्व का प्रमाणपत्र… इन दो हस्तियों को बताया गैर हिंदु

देश में अभिनेता से नेता बनने के ढेरों किस्से मौजूद हैं। और अब साउथ के मशहूर अभिनेता प्रकाश राज भी इसी कतार में खड़े नजर आ रहे हैं। इन दिनों प्रकाश राज का ध्यान फिल्मों से ज्यादा राजनीति पर है। उनके विवादित बोल जारी हैं। और अब प्रकाश राज अपने हिंदुत्व होने का प्रमाणपत्र बांटते हुए नजर आ रहे है। ये सिलसिला उस वक्तं से शुरु हुआ था। जब कर्नाटक में वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार आज तक गौरी लंकेश के हत्याकरों को नहीं पकड़ पाई है। लेकिन, प्रकाश राज के बीजेपी पर हमले जारी हैं। एक बार फिर उन्होंने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्री्य अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधा है। प्रकाश का कहना है कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह दोनों का ही विरोधी हूं। ये दोनों नेता हिंदू नहीं हो सकते हैं।

आपको बता दे कि अभिनेता प्रकाश राज के इस बयान पर कर्नाटक में विवाद खड़ा हो गया है। लेकिन, प्रकाश यहीं नहीं रूके। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के सांसद और केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े पर भी वार किया। उन्होंने कहा कि अनंत कुमार सरीखे लोग देश से एक खास किस्म की विचारधारा को खत्म करना चाहते हैं। ऐसे लोग हिंदू नहीं हो सकते हैं। एक टीवी कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि जो कोई भी हिंसा और हत्याओं की बात करता है वो उस शख्स को हिंदू नहीं मान सकते हैं।

इसके बाद उनके निशाने पर केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार आ गए।
उन्होंने कहा कि अनंत कुमार एक वाद एक धर्म को ही धरती से खत्म करने की बात करते हैं। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद लोगों से पूछा कि क्या ऐसे लोग हिंदू हो सकते हैं। हालांकि टीवी कार्यक्रम के दौरान इस मसले पर काफी गरमा-गरम बहस भी हुई। इसी कार्यक्रम में जनता ने भी प्रकाश राज को घेर लिया और पूछ लिया कि आप कौन होते हैं ये तय करने वाले कि कौन हिंदू है और कौन नहीं।

जिसके जवाब में उन्होंने पब्लिक से सवाल किया कि फिर आप लोग कैसे तय करते हैं कि वो हिंदू विरोधी है या नहीं। दरअसल, इस वक्त लंबे समय से बीजेपी और प्रकाश के बीच 36 का आंकडा चल रहा है। प्रकाश राज हर मंच पर बीजेपी की नीतियों का विरोध करते हैं। ना जाने क्यों प्रकाश राज को ये लगता है कि गौरी लंकेश की हत्या हिंदू संगठनों से जुड़े किसी शख्स ने की।

जबकि आज तक कर्नाटक की पुलिस ये पता नहीं लगा पाई है कि आखिर गौरी लंकेश का मर्डर किसने और क्यों किया। बता दे कि इस विवाद को सबसे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हवा दिया थी। जिन्होंने बिना कर्नाटक पुलिस की जांच पूरी हुए ही गौरी लंकेश की हत्या के पीछे हिंदू संगठनों का हाथ बता डाला था। इसके बाद प्रकाश राज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुद से बड़ा एक्टर बताते हुए इस मसले पर चुप्पी तोड़ने की मांग की थी। उन्होंने इस मामले में बीजेपी के खिलाफ काफी लामबंदी करने की कोशिश की थी।

Share This Post