जिस मुस्लिम लड़के ने टॉप किया था IAS का इम्तिहान उसने तो एलान कर दिया जंग का.. वो भी भारत के खिलाफ

उस मुस्लिम युवक ने IAS टॉप किया तो लगा कि शायद ये युवा उन मुस्लिम युवाओं को मुख्यधारा में लाने के लिए नई प्रेरणा बनेगा जो मजहबी कट्टरपंथियों के बहकावे में आकार सेना पर पत्थर फेंकते हैं, अपने ही देश के खिलाफ हथियार उठाते हैं. देश के लगभग सभी वर्गों ने यही उम्मीद जताई थी ये युवा मुस्लिम समाज के बीच नई क्रान्ति लाएगा. लेकिन उम्मीदें अब धूमिल पड़ चुकी हैं, धूमिल ही नहीं बल्कि ध्वस्त हो चुकी हैं क्योंकि खुद इसी IAS टॉपर मुस्लिम युवक ने भारत के ही खिलाफ जंग का एलान कर दिया है.

हम बात कर रहे हैं शाह फैसल की.. वही शाह फैसल जिसने IAS से इस्तीफा देकर राजनैतिक पार्टी बनाई तथा उसके बाद उसी विचारधारा पर चल पड़ा था जिस पर अलगाववादी चलते हैं. अब कश्मीर से धारा 370 हटाये जाने के बाद शाह फैसल भड़क उठा है तथा अपने ही देश अर्थात भारत के खिलाफ जंग का एलान कर रहा है. शाह फैसल ने कहा है कि केंद्र सरकार के फैसले के बाद अब कुछ बचा नहीं है, इसलिए लड़ाई जारी रखने के अलावा और कोई रास्ता नहीं है.

जम्मू कश्मीर राज्य से धारा 370 हटाए जाने पर शाह फैसल ने कहा, ‘लोग सदमे में और सन्न हैं. वे अभी इसका अंदाजा भी नहीं लगा पाए हैं कि इसका क्या असर होगा. हमने जो खोया हर कोई उसका दुख मना रहा है. 370 को लेकर लोगों से मेरी बातचीत के अनुसार, यह राज्य का नुकसान है, जिसने लोगों गहरा दुख दिया है. इसे पिछले 70 सालों में भारत द्वारा किए गए सबसे बड़े धोखे के रूप में देखा जा रहा है.’ शाह फैसल ने कहा है कि संचार का कोई और साधन उपलब्ध नहीं है. जिनके पास डिश टीवी है वे खबरें देख रहे हैं. केबल सेवाएं बंद हैं. अधिकतर लोगों को अभी  भी पता नहीं है कि क्या हुआ है.

370 हटाए जाने पर फैसल ने कहा कि हमारे इतिहास और हमारी पहचान को दबाने वाले इस गैरसंवैधानिक कानून को चुनौती देने के लिए सभी विपक्षी पार्टियां एकजुट हैं. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने अपनी आंखे बंद कर ली हैं. इसलिए मैं वहां से किसी चीज की उम्मीद नहीं कर रहा हूं. सबसे दुख की बात यह है कि हमसे जो चीज दिनदहाड़े छिनी गई है उसे केवल नरेंद्र मोदी और अमित शाह ही हमें वापस दे सकते हैं. लेकिन जो खो चुका है, वह खो चुका है. हम लड़ाई जारी रखने के विश्वास के अलावा शायद सब कुछ खो चुके हैं और वह हम करेंगे, हम जंग जारी रखेंगे.

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW