क्या पूर्ण सफल रहा योगीराज में आयोजित इज्तिमा ? मुस्लिमों में दिख रही अभूतपूर्व एकता

पूरी दुनिया के मुसलमानों को आमंत्रित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शासित बुलंदशहर में पूरी आवाभगत के बीच मे हुए इज्तेमा ने अपनी सफलता के संकेत देने शुरू कर दिए हैं .. इजेत्मा के आयोजन समाप्ति के बाद न सिर्फ पूरी दुनिया के बल्कि भारत के भी विभिन्न प्रदेशों व कोनों के मुसलमानों में अभूतपूर्व एकता व सामंजस्य देखने को मिलने लगा है ..यद्द्पि इस आयोजन का उद्देश्य भी था मुस्लिमों के अंदर एकता व सामूहिक सामंजस्य का सन्देश देना जिसमें यकीनन इज्तेमा सफल होता दिख रहा है, वो भी पूरे देश के विभिन्न कोनों में ..

विदित हो कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शासित उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में तमाम नियमों व कानूनों को तोड़ते हुए आपेक्षित भीड़ से कहीं ज्यादा संख्या में जमा हुए थे वहां मुस्लिम समुदाय के लोग. देश और दुनिया के विभिन्न कोनो से आये मुस्लिम जानकारों ने उनको इस्लाम के राह पर अटल रहने, एक रहने व संगठित रहने पर जोर दिलाया था..उस इत्जेमा की सफलता इसी बात से साबित हो रही है कि उसके बाद किसी भी प्रकार से उनकी अपेक्षाओं में कोई समस्या नही आई और अब भारत का मुस्लिम समाज संगठित होता हुआ भी सबको दिख भी रहा है .

इस आयोजन के चलते हुई अव्यवस्था के मामले में विरोध के स्वर उठाने वाले भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय सांसद भोला सिंह को अपनी ही पार्टी का साथ नहीं मिला था.. इतना ही नहीं, वहां के भाजपा के ही विधायक का फोन जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने उठाना बन्द कर दिया था .मुस्लिमों की एकता का ये सन्देश बिना मीडिया आदि के शोर शराबे के दिया गया था जो काफी असरदार व कारगर भी साबित होता दिख रहा.. कुल मिला कर ये कहना गलत नहीं होगा कि ये आयोजन बेहद सफल रहा हो मुस्लिमों को एक सूत्र में पिरोने में कामयाब होता दिख रहा है..

Share This Post