Breaking News:

हिंदुत्व का अपमान किया था बुर्के ने दिया सहारा. महर्षि वाल्मीकि का अपमान पड़ रहा है भारी…

अपनी बेबाकी के लिए बॉलीवुड में मशहूर इस एक्ट्रेस को टीवी शो के दौरान महर्षि वाल्मीकि के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करना महंगा पड़ गया है. उम्मीद है कि अब राखी सावंत धर्म से जुड़े किसी भी मामले पर बयान देने से पहले एक बार सोचेंगी जरूर. आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में राखी सावंत के खि‍लाफ लुधियाना ज्यूडिशियल मैजिस्ट्रेट कोर्ट में केस दर्ज करवाया गया था. 
जिसमें उन्होंने रामायण के रचियता भगवान वाल्मीकि पर आपत्तिजनक बोल बोले थे, जिसमें कोर्ट में पेश होने के बाद न्यायिक मजिस्ट्रेट विश्व गुप्ता ने राखी की जमानत मंजूर कर ली है. बता दें कि अदालत ने 2 जून को गैर जमानती वारंट राखी सावंत के खि‍लाफ जारी करते हुए लुधियाना के पुलिस आयुक्त से कहा था कि वह 7 जुलाई से पहले अदालत में एक्ट्रेस की पेशी सुनिश्चित करें. 
इससे पहले भी 9 मार्च को राखी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ था. अदालत की ओर से बार-बार सम्मन भेजे जाने के बावजूद 9 मार्च को हुई मामले की सुनवाई में राखी पेश नहीं हुई थीं. लोगों की नजरों से बचने के लिए राखी अदालत बुर्का पहन कर पहुंची और आत्म समर्पण किया. अदालत ने एक-एक लाख रुपये के दो मुचलकों पर राखी की जमानत मंजूर कर दी है उसके बाद वह मुंबई के लिए रवाना हो गईं.
Share This Post