मजबूत हुई सेना की ताकत, भारतीय सेना ने किया ब्रहमोस मिसाइल का सफल परीक्षण

नई दिल्ली : भारतीय सेना ने जमीन पर मार करने वाली ब्रहमोस क्रूज मिसाइल के उन्नत रूप का लगातार दूसरा सफल परीक्षण किया। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में सेना के स्ट्राइक वन कॉर्प्स ने मिसाइल की पूरी मारक क्षमता का परीक्षण किया। सेना ने एक बयान जारी कर कहा कि इससे इस शानदार हथियार की सटीक मारक क्षमता साबित हुई है। 
दोनों टेस्ट में इस मल्टीरोल मिसाइल ने जमीन पर स्थित लक्ष्य को जरूरी सटीकता के साथ निशाना बनाया। सेना ने कहा कि यह लगातार पांचवी बार है, जब ब्रह्मोस के इस वर्जन को सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया है। जमीन पर स्थित निशाने को ‘टॉप अटैक’ मोड में मारा गया, जो इस किस्म के किसी भी अन्य हथियार ने नहीं किया है। 
भारतीय सेना ने यह परीक्षण ऐसे समय में किया है जब पाक सेना द्वारा दो जवानों की हत्या के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ा हुआ है। मिसाइल को मोबाइल ऑटोनोमस लांचर्स (एमएएल) से छोड़ा गया। भारतीय सेना 2007 में ब्रह्माोस की तैनाती करने वाली दुनिया पहली सेना है। उसने इस हथियार के कई रेजीमेंट बनाए हैं। भारत और रूस द्वारा संयुक्त रूप से विकसित ब्रह्माोस मिसाइल जमीनी और समुद्र स्थित लक्ष्य के खिलाफ जमीन, समुद्र और हवा से मार करने में सक्षम है। 
Share This Post