फ़ौज की बन्दूको ने गरज कर कायम की कश्मीर में शांति.. जैश का दुर्दांत आतंकी फ़याज़ पंजू सदा के लिए खामोश

भारत की सेना ने एक बार फिर से अपने रौद्र रूप से दर्शन कश्मीर के उन आतंकियों को करवाए है जो भाड़े के हथियार और भीख में मिले पैसे के दम पर भारत माता के अभिन्न अंग कश्मीर पर नजर गडाए हुए थे . भारत का खा कर भारत के खिलाफ ही जहर उगलने वाले कई बड़े आतंकियों को मोदी सरकार बनने के बाद मौत की नींद सुला दिया गया था और जो बचे थे उनकी तलाश जोरो शोर से थी .. आखिरकार फ़ौज ने एक बार फिर से एक और दुर्दांत आतंकी को खोज निकाला है और किया उसका काम तमाम ..

विदित हो कि पिछले कुछ समय से भारत की सेना की हिट लिस्ट में चल रहा दुर्दांत इस्लामिक आतंकी और जैश ए मुहम्मद की रीढ़ माना जाने वाले सेना के हत्थे चढ़ गया और अब ढेर कर दिया गया है . उसके साथ उसका एक साथी भी मारा गया है जिसकी पहिचान करवाई जा रही है . इस आतंकी की तलाश 12 जून को अनंतनाग में CRPF पर हुए हमले के बाद से लगातार थी जिसमे भारत के 5 जांबाज़ अर्धसैनिक बल सदा के लिए अमरता को प्राप्त हो गये थे ..

इसी हमले में कश्मीर पुलिस के एक थानेदार अरशद खान भी बुरी तरह से घायल हुए थे जिन्होंने बाद में दम तोड़ दिया था . उस हमले का ये मास्टरमाइंड था जिसको ढेर करने के लिए सैनिक संकल्पित थे . इस आतंकी के एक घर में छिपे होने की सटीक सूचना थी जिसको सैनिको ने घेर लिया .. इसको सरेंडर करने का पूरा मौका दिया गया लेकिन इसने गोलियां बरसानी शुरू कर दी जिसका जवाब इसको गोली से मिला और आखिरकार वो खबर आई जिसका हर भारतीय को इंतजार था .. फ़याज़ मारा गया और हर तरह ख़ुशी की लहर दौड़ गई .

Share This Post