बरसते पत्थरो को पार कर के फ़ौज ने फिर मारे ३ आतंकी

भारत की सेना के शौर्य ही नही बल्कि इसको धैर्य का भी जीवंत प्रमाण कहा जाएगा . सामने से आती गोलियां और पीछे से आ रहे पत्थर , ऊपर से तथाकथित मानवाधिकर वालों के आरोप .. इन तीन बाधाओं को एक साथ पार कर के कश्मीर में शांति और व्यवस्था की जिम्मेदारी मिली है सैनिको को जिसको वो बखूबी निभा रहे हैं . एक बार फिर से भारत की फौजों की बन्दूकों ने गरज कर कश्मीर के ३ गद्दारों को उनके अंजाम तक पहुचा दिया है और कश्मीर को शांति की तरफ अग्रसर कर दिया है .

जम्मू एंड कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में सुरक्षा बलों ने तीन आतंकी एक एक कर ढेर कर दिए. गुरुवार सुबह से ही सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ जारी थी. सुबह से जारी मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने पहले दो आतंकियों को मार गिराया. सुरक्षाबलों को आशंका थी कि पीछे के इलाकों में दो से तीन और आतंकी छिपे हो सकते हैं. इस ऑपरेशन में 4 जवान घायल हुए. आतंकियों को बचाने के लिए स्थानीय पत्थरबाजो ने सुरक्षाबलों पर पथराव भी किया, लेकिन सुरक्षाबलों ने तीनाें आतंकियों को ढेर कर दिया.

कई घंटे तक दोनों ओर से गोलीबारी के बाद सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया। सेना ने जानकारी दी है कि मारे गए आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद हुआ है। मारे गए आतंकी जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े बताए गए हैं. पुलवामा के त्राल में आतंकियों के छिपे होने की सूचना सुरक्षाबलों को बुधवार देर रात को मिली थी। बुधवार रात से ही सुरक्षाबलों ने आतंकियों को पकड़ने के लिए खिलाफ सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया था। रात का वजह से सुरक्षाबलों को सफलता नहीं मिल सकी। दिन में सुरक्षाबलों ने इनको मार गिराया।

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW