सबके दिन की शानदार शुरुआत.. कश्मीर के पुलवामा में 2 आतंकी सदा के लिए खामोश जिसमें जैश ए मुहम्मद का शाहिद बाबा भी शामिल

सभी भारत वासी जब सो कर उठे ही था या सो कर उठने की तैयारी कर रहे थे तब तक भारत के जांबाज़ वीरों ने कश्मीर को आतंक मुक्त बनाने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए राष्ट्र के 2 गद्दारों को मौत की नींद सुला दिया था . ये मुठभेड़ उन आतंकियों से हुई जो भारत के खिलाफ लंबे समय से साजिश रचते हुए नापाक मनसूबे पाल कर भारत की ही हवा में सांस लेते हुए भारत के ही खिलाफ हथियार उठा चुके थे.. इन दोनों गद्दारों की मौत के बाद कश्मीर शांति की तरफ बढ़ चला है और सेना के ऑपरेशन क्लीन ने एक मजबूत कदम और बढाया है .

विदित हो कि आतंकियों और सैनिको के बीच में ये मुठभेड़ कश्मीर के पुलवामा क्षेत्र के द्रुबगाम इलाके में हुई..यहां पर आतंकियों के छिपे होने की सटीक सूचना पर भारतीय सेना, CRPF व कश्मीर पुलिस ने मिल कर इलाके की घेराबंदी की.. आखिरकार सूचना सही पाई गई और सैनिको ने उन्हें सरेंडर का मौका दिया ..सैनिको से घिरा होने पर आतंकियो ने अंधाधुंध गोलियां बरसानी शुरू कर दी जिसके जवाब में दोनों पक्षो से फायरिंग शुरू हो गयी .आखिरकार ये मुठभेड 2 दुर्दांत आतंकियों की मौत के बाद ही खत्म हुई..

सेना के इस ऑपरेशन में खलल डालने की भी भरपूर कोशिश की गई लेकिन सतर्क जवानों ने किसी बाहरी को मुठभेड़ स्थल तक आने ही नही दिया.. मारे गए दोनों आतंकी इस्लामिक आतंकी समूह जैश ए मुहम्मद के सक्रिय सदस्य बताए जा रहे हैं जिन्हें इलाके में सम्मानित और शरीफ माने जाने वाले आतंक प्रेमी अब्दुल खालिक ने अपने घर मे शरण दे रखी थी..सेना के अभियान में मृत दो आतंकियों की पहिचान शाहिद बाबा और अनायत उल्लाह के रूप में हुई है जो स्थानीय पुलवामा के ही रहने वाले थे.. आतंकियों के पास से भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद किया गया है ..इलाके को घेर कर सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है..

Share This Post