आईआरसीटीसी फिर से वसूलेगा सर्विस चार्ज..

यदि आप भी आईआरसीटीसी का इस्तेमाल करते हैं तो ये खबर आपके लिए है. यदि आप ई-रेल टिकट के जरिए यात्रा करते हैं तो आपका ट्रेन का सफर जल्द ही महंगा होने वाला है. रेलवे में ऑन लाइन टिकट बुक करने की सुविधा मुहैया कराने वाली संस्था आईआरसीटीसी फिर से सर्विस चार्ज वसूलने की तैयारी कर रही है. ई-टिकट की बुकिंग पर जल्द ही 20 से 40 रुपए तक का सर्विस चार्ज लगाया जा सकता है. आईआरसीटीसी चार्ज को दो कैटेगरी में लगाने वाला है.

नोटबंदी के बाद  ही रेलवे ने डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए खत्म कर दिया सर्विस चार्ज.

नोट बंदी के बाद डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए 2016 में वित्त मंत्रालय की सलाह पर रेलवे ने जिस सर्विस चार्ज को खत्म कर दिया गया था. उसे आईआरसीटीसी फिर से वसूलने की तैयारी कर रहा है. ई-टिकटों पर भारतीय रेलवे सर्विस चार्ज वसूला जाता था. यह स्लीपर क्लास के टिकट पर 20 रुपए और एसी बोगी के लिए 40 रुपए होता था.

बताया जा रहा है कि सर्विस चार्ज ना वसूलने के कारण आईआरसीटीसी की कमाई भी घट गई है. हालांकि, वित्त मंत्रालय ने आश्वासन दिया था कि वो इस नुकसान की भरपाई करेगा, लेकिन अभी तक कोई भी नुकसान की भरपाई नहीं हो पाई है.

सूत्रों के मुताबिक यह पता चला है कि , जल्द ही आईआरसीटीसी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बैठक होनी है, जिसमें सर्विस चार्ज की दरों पर फैसला लिया जा सकता है. सूत्रों की मानें तो आईआरसीटीसी पुरानी सर्विस चार्ज की दरों को ही लागू कर सकता है. अगर ऐसा होता है तो इसका सीधा बोझ रेल यात्रियों को झेलना पड़ेगा.

 

 

Share This Post