तीन तलाक मुद्दे को उठा कर मौत के खौफ में जी रही इशरत को भाजपा ने दिया सहारा

जब आप के साथ कोई मुश्किलों में खड़ा रहता तो उससे अच्छा कोई हो नहीं सकता और उसके अलावा आपके हक के लिए कोई खड़ा नहीं होगा। ये बात मुस्लिम बहने जान गई है कि उनके हक की आवाज और उनके हक की बात और उनके साथ केवल बीजेपी खड़ी है और खड़ी रहेगी। ज्ञात हो की तीन तलाक मुहीम को आगे बढ़ाने वाली तीन तलाक के खिलाफ जंग लड़ने वाली और मामले की प्रमुख याचिकाकर्ताओं में से एक इशरत जहां भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में शामिल हो गई हैं।

इशरत का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य बीजेपी नेता मुस्लिम महिलाओं के लिए लड़ रहे हैं, ऐसे में मैं भी पार्टी से जुड़ गई हूं।

मिली जानकारी के मुताबिक पश्चिम बंगाल बीजेपी के महासचिव सायंतन बसु ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि इशरत जहां रविवार को हावड़ा स्थित बीजेपी कार्यालय में पार्टी में शामिल हुईं। इस दौरान इशरत को बीजेपी की हावड़ा यूनिट ने सम्मानित भी किया। इस मौके पर इशरत ने कहा, ‘मोदी जी ने तीन तलाक पीड़िताओं के हित में कानून बनाया है।

मैं बहुत खुश हूं। मैं पार्टी के विमिन विंग में शामिल हो रही हूं।’
आपको बता दे इशरत जहां हावड़ा की रहने वाली इशरत जहां को पति ने साल 2014 में दुबई से फोन करके उन्हें तीन तलाक दे दिया था। इशरत उन पांच याचिकाकर्ताओं में से एक हैं जिनकी वजह से सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक करार दिया। हालांकि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी इशरत की मुश्किलें खत्म नहीं हुई थीं।

Share This Post

Leave a Reply