दुर्दांत हत्यारे खूनी आतंकी और इंसानियत के दुश्मन ने गांधी के विचार परिक्षा को टॉप किया

दुर्दांत आतंकी शम्सुद्दीन शेख जिसका लक्ष्य भारत में कत्लेआम मचाना था, भारतभूमि को लहूलुहान करना तथा तथा इसके लिए उसने 2008 में अहमदाबाद में भीषण सीरियल ब्लास्ट भी किये थे, वो शम्सुद्दीन शेख गांधी विचार परिक्षा में टॉप किया है. इस परिक्षा में उसने 80 में से 80 मार्क्स हासिल किए हैं. शम्सुद्दीन शेख अहमदाबाद में 2008 के सीरियल ब्लास्ट का आरोपी है. शेख्‍स इस वक्‍त अहमदाबाद की साबरमती सेंट्रल जेल में बंद है.

खूनी हत्यारे आतंकी शम्सुद्दीन शेख ने गांधी विचार ओर गांधी जीवन से जुड़ी इस परीक्षा में सबसे बेहतर प्रदर्शन किया है. दिलचस्प बात तो ये है कि पिछले साल भी इस परीक्षा में शम्सुद्दीन शेख ने टॉप किया था. शम्सुद्दीन शेख ने साबरमती जेल में आने के बाद अंग्रेजी साहित्य में ग्रैजुएशन ओर मास्टर्स किया है. इस परिक्षा को शेख ने अंग्रेजी भाषा में दिया है. 2 अक्‍टूबर को गांधी जंयती के मौके पर अहमदाबाद के साबरमती सेंट्रल जेल में कैदि‍यों के लिए गांधी विचार के परिक्षा में हिस्सा लिया था. इस परीक्षा को नवजीवन ट्रस्ट के जरिये जेल प्रशासन के साथ मिलकर आयोजित किया था.

इस आयोजन का मुख्‍य मकसद कैदि‍यों में गांधी जी के विचारों के जरीये सुधार लाना है. एक प्रोग्राम के तहत पिछले तीन साल से यह परीक्षा साबरमती जेल में ही आयोजित की जाती है. साबरमती सेंट्रल जेल के कुल 86 कैदि‍यों ने इस परिक्षा में हिस्सा लिया था. जि‍समें 13 महिलाएं भी शामिल थीं. इन 86 कैदि‍यों में से 7 कैदी अहमदाबाद सीरियल ब्लास्ट के आरोपी हैं.

Share This Post