कश्मीर नहीं अब पूरा भारत निशाने पर .. जैश ए मुहम्मद ने किया “गजवा ए हिंद” का एलान

कुछ समय पहले इसी तरह का एलान दुर्दांत इस्लामिक आतंकी जाकिर मूसा ने किया था तब भारत की मीडिया के एक बड़े वर्ग ने उसको ढकने के तमाम प्रयास किये थे . जाकिर मूसा ने साफ साफ कहा था कि वो कश्मीर की लड़ाई नहीं लड़ रहा बल्कि भारत को एक इस्लामिक देश बनाने का संघर्ष कर रहा है . इसी के साथ साथ ISIS की विचारधारा वालों ने ये भी कहा था कि गौ मूत्र पीने वालों को हराना बहुत आसान है और जल्द ही भारत इस्लामिक मुल्क होगा .

हिन्दुओ के भगवा कपड़ो और उत्तर प्रदेश की भगवा रंग में रंगी दीवारों की खबरों को प्राथमिकता से दिखाने और प्राइम टाइम में उसको चलाने वालों ने जाकिर मूसा के उस एलान को जान बूझ कर नहीं दिखाया और देश में सेकुलरिज्म के वो सिद्धांत हावी रहे जिसका उनके हिसाब से अर्थ हिन्दुओं का दमन और कट्टरपंथ को बढावा देना होता है . लेकिन अब वही एलान इस्लामिक आतंकी दल जैश ए मुहम्मद ने किया है और उसने बताया कि कश्मीर ही नहीं उसके निशाने पर भारत है .

ज्ञात हो कि जैश ए मुहम्मद ने गजवा ए हिन्द का एलान किया है . गजवा ए हिन्द कुछ इस्लामिक किताबो में लिखे वो शब्द हैं जो आने वाले समय में सुदर्शन न्यूज विस्तार से बताएगा .. इस अवधारणा को तमाम मुसलिमों को मानते और उस पर बाकायदा वीडियो भी जारी करते देखा गया है . अब जैश के एलान के बाद वो सब कुछ सतह पर आ रहा है . यहाँ तक कि पुलवामा के बलिदानियों को मारना भी जैश के हिसाब से गजवा ए हिन्द का ही हिस्सा रहा है .

जैश-ए-मोहम्मद नेताओं अब्दुल राउफ असगर, मोहम्मद मकसूद और अब्दुल मलिक ताहिर ने कहा था कि भारत..पाकिस्तान मित्रता और द्विपक्षीय व्यापार से ‘जिहाद’ समाप्त नहीं होगा क्योंकि ‘शहादत’ के लिए कई युवा तैयार हैं.   इसी के लिए पाकिस्तान के ओकारा जिले में 27 नवम्बर 2017 को एक सम्मेलन भी आयोजित किया गया था .  उस सम्मेलन में 2000 से अधिक आतंकी आकाओं ने हिस्सा लिया था. उपरोक्त सभी सूचनाएं सीमापार से प्राप्त गुप्तचर रिपोर्ट के अनुसार हैं .

Share This Post