दिलशाद की 50 बीवियों का खर्च वो 50 चलाती थीं जिन्हें धर्मनिरपेक्षता और अपना प्यार ही संसार दिखता था.. उन्हें तो पता भी नहीं था ये सब


दिलशाद की 1 नहीं बल्कि 5 बीवियां थीं. दिलशाद ने 1 के बाद एक 5 निकाह किये. दिलशाद इसको अपना मजहबी मामला बताता था तथा कहता था कि उसका मजहब उसको 1 से अधिक निकाह की इजाजत देता है. लेकिन आश्चर्य की बात ये थी कि दिलशाद तथा उसकी 5 बीवियों का खर्च वो 50 अन्य महिलायें चलाती थीं, जो खुद को मॉडर्न जमाने का बताती थी तथा कहती थीं वह वह सेक्यूलर हैं तथा धर्म-मजहब आदि को नहीं मानती हैं.

5 निकाह करने वाला दिलशाद मध्यप्रदेश के जबलपुर का रहने वाला है. भी से एक-एक, दो-दो बच्चे भी हुए. लेकिन जैसे-जैसे 5 बीवियों वाला परिवार बढ़ने लगा तो दिलशाद घर चलाने में असमर्थ हो गया. उधर 5 बीवियों के महंगे शौक के चलते उसके परिवार की गाड़ी पटरी से उतरती चली गई. एक वक्त ऐसा आया कि दिलशाद परिवार चलाने के लिए ठगी करने लगा. यहां दिलशाद ने कम से कम 50 ऐसे युवतियों को फंसाया जो कथित मॉडर्न  के जाल में उलझी हुईं थीं. इनको ब्लैकमेल कर दिलशाद काली कमाई करने लगा.

फिलहाल दिलशाद STF द्वारा गिरफ्तार किया जा चुका है. दिलशाद ने एसटीएफ को बताया कि उसकी 5 बीवियों में चौथी बीवी जबलपुरमें एक निजी अस्‍पताल चलाती है. बाकी की चार घर पर ही रहती हैं. बीवी और बच्चों के महंगे शौक पूरे करने के चक्कर में वह गलत काम करने लगा. फिर उसे एक आइडिया सूझा और उसने एक गैंग बनाई. गैंग की मदद से वह पढ़ी-लिखी युवतियों को नर्स बनाने का झांसा देने लगा. भोपाल के एम्स में नर्स के पद पर नौकरी दिलाने की बात कहकर वो युवतियों को फंसाता था.

उसने कबूला है कि गैंग के एक सदस्य की पत्नी एम्स में सुपरिटेंडेंट के पद पर है. इसी का उसने फायदा उठाया. भोपाल एसटीएफ पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि विशेष रणनीति बनाकर गिरोह को पकड़ने में सफलता मिली. गिरोह नर्स के पद पर भर्ती कराने के नाम पर दिलशाद अब तक 50 से अधिक लड़कियों से लाखों रुपये की ठगी कर चुका है. उन्होंने बताया कि एसटीएफ को लगातार शिकायत मिल रही थी कि एम्स में नर्स के पद पर भर्ती कराने का झांसा देकर युवतियों के साथ धोखाधड़ी की जा रही है. एसटीएफ के पास कई युवतियों ने ठगी की लिखित में शिकायत भी की थी. इसके बाद STF ने दिलशाद  तथा उसके एक साथी को गिरफ्तार किया है.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...