Breaking News:

जिस इरफ़ान को इलाके वाले डॉक्टर साहब कहते थे, उसने अयोध्या पर हमला करने वाले आतंकियों की ऐसे की थी मदद

2005 में मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या में आतंकी हमला करने वाले 5 इस्लामिक आतंकियों को न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा सुना दी. इन आरोपियों में सहारनपुर के कस्बा तीतरो निवासी डॉक्टर इरफान भी शामिल है. इरफान ने अयोध्या में विस्फोट करने वाले आतंकियों की पूरी मदद की थी. वो इरफ़ान जिसे इलाके के लोग डॉक्टर साहब कहते थे लेकिन वह डॉक्टर की आड़ में छिपा वो गद्दार था जो अपने ही देश के खिलाफ इस्लामिक आतंकियों की मदद कर रहा था.

बता दें कि अयोध्या में पांच जुलाई 2005 की सुबह रामलला परिसर की बैरिकेडिंग को विस्फोट करके उड़ा दिया था. विस्फोट करने वाले पांच इस्लामिक आतंकियों को सुरक्षाकर्मियों ने मार गिराया था. मारे गए आतंकियों से बरामद मोबाइल फोन के सिम की जांच से घटना की साजिश रचने और आतंकियों को असलहे और वाहन उपलब्ध कराने वाले पांच लोगों के नाम प्रकाश में आए थे, इनमें तीतरों निवासी डॉक्टर इरफान का नाम भी शामिल था, जिसके चलते उसी दौरान पुलिस टीम ने डॉक्टर इरफान को गिरफ्तार कर लिया था.

बाद में यह खुलासा हुआ था कि आरोपी इरफान और अन्य आरोपियों ने आतंकियों की पूरी मदद की थी. इतना ही नहीं डॉक्टर इरफान आरोपियों को लेकर सहारनपुर जनपद में भी घूमा था और देवबंद भी लेकर गया था. इसके अलावा डॉक्टर इरफान के मोबाइल फोन से आतंकियों से की गई बातचीत की सीडीआर भी केस की विवेचना में ठोस आधार बनी थी क्योंकि उस समय यह भी बताया गया था कि आरोपी इरफान और आतंकियों के बीच कई बार बातें हुईं थीं.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share