Breaking News:

शीर्षतम स्तर पर दोहराई जा रहे सुरेश चव्हाणके जी के एक एक शब्द. शिवसेना ने कहा- “मुसलमानों का एक वर्ग तेजी से बढ़ा रहा आबादी”

जिस आवाज को राष्ट्र निर्माण संस्था के अध्यक्ष श्री सुरेश चव्हाणके जी ने प्रमुखता से उठा कर आंकड़ो और प्रमाणों के साथ पूरे भारत की यात्रा के दौरान कहा था अब उसको उठा रहा है राष्ट्र का शीर्षतम नेतृत्व. पहले प्रधानमन्त्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने लाल किले की प्राचीर से जनसंख्या की बेतहाशा वृद्धि पर रोक लगाने की जरूरत पर बल दिया तो वहीँ बाद में अब शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामने में वही शब्द लिखे जो पूरे भारत बचाओ यात्रा के दौरान बोले थे श्री सुरेश चव्हाणके जी ने ..

विदित हो कि सुरेश चव्हाणके जी द्वारा छेड़ी गई जनसंख्या नियंत्रण कानून की महामुहिम अब शीर्ष स्तर से बोली जा रही है . शिवसेना ने भी अब इस मामला में अपनी आवाज बुलंद करते हुए पहले तो प्रधानमन्त्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा जनसंख्या नियंत्रण कानून की जरूरत के बयान का स्वागत किया और उसके बाद एक कडवा सच बोलते हुए कहा कि मुस्लिमो का एक कट्टरपंथी तबका इन बातों से कोई वास्ता नही रखता है और वो बेतहाशा जनसंख्या बढाने में लगा हुआ है .

शिवसेना ने अपने मुख्यपत्र सामना के संपादकीय में कहा गया है कि इसलिए, वह जनसंख्या विस्फोट के मुद्दे को हल करेंगे और ‘एक राष्ट्र एक चुनाव’ अवधारणा को (कार्यान्वित) करेंगे.’ शिवसेना ने कहा कि वह मोदी के इस तर्क से सहमत है कि समाज का एक बड़ा वर्ग जनसंख्या विस्फोट के खतरों को समझता है और परिवार नियोजन करता है. संपादकीय में आरोप लगाया गया है, ‘‘हालांकि, कट्टरपंथी मुस्लिम जनसंख्या विस्फोट को लेकर चिंतित नहीं हैं.

आगे लिखते हुए उन्ही कट्टरपन्थियो पर सवाल उठाते हुए सामना में लिखा गया है कि ऐसे चरमपंथी ‘हम दो हमारे 25 बच्चे’ की मानसिकता से बाहर आने को तैयार नहीं हैं.” शिवसेना सांसद और पार्टी प्रवक्ता संजय राउत ने मुंबई में संवाददाताओं से कहा, ‘हम खुश हैं कि मोदी सरकार शिवसेना की नीतियों को आगे बढ़ा रही है…दिवंगत बाल ठाकरे ने हमेशा जनसंख्या नियंत्रण की जरूरत पर बल दिया.. राउत ने कहा कि तीन तलाक कानून समान नागरिक संहिता की दिशा में उठाया गया कदम है

Share This Post