दिल्ली की नामी ठग थी ग़ज़ल शाहना.. ऐसे ठगी कि ठग भी हैरान


दिल्ली निवासी ग़ज़ल शाहना… नाम से तथा चेहरे से आप बिल्कुल भी अंदाजा नहीं लगा सकते कि ये लड़की कितनी बड़ी शातिर ठग हो सकती है. ठगी करने का तरीका भी ऐसा कि बड़े से बड़े ठग भी हैरान हो गये.  ग़ज़ल शाहना ने ठगी का अपना एक पूरा गिरोह बनाया हुआ था, जिसने मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में अब तक 12 लाख की ठगी की  हुई थी. गिरोह की सरगना ग़ज़ल शाहना को साइबर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. ये गिरोह जॉब के नाम पर 10 रुपए में फर्जी रजिस्ट्रेशन कर लोगों के बैंक खाते से 10 हजार रुपए काट लेती थी.

खबर के मुताबिक़, उज्जैन राज्य साइबर सेल प्रोटेक्शन वारंट में देशभर के अलग-अलग शहरों में जॉब के लिए फर्जी रजिस्ट्रेशन करने और उसके लिए मात्र 10 रुपए का शुल्क कार्ड से पेमेंट करने को लेकर 10-10 हजार रुपए फर्जी तरीके लिए जाते थे. इसमें बैंक से करीब 12 लाख से भी ज्यादा की ठगी करने वाली दिल्ली निवासी शातिर युवती गजल शाहना को गिरफ्तार कर उज्जैन लाई गई है. देशभर में अपनी फर्जी वेबसाइट  WWW. INEDREAMJOB.COM के जरिए जॉब मुहैया करवाने के इस गिरोह की प्रमुख सदस्य युवती गजल को शनिवार को उज्जैन साइबर सेल ने गिरफ्तार किया है. दरअसल, गजल अपने साथियों के साथ एक फर्जी वेबसाइट के माध्यम से जॉब दिलवाने का काम करती थी.

आपको बता दें कि भोले-भाले लोगों को फंसाकर मात्र 10 रुपए में रजिस्ट्रेशन करने का बोलती थी, लेकिन जॉब की चाहत में जब कोई भी रजिस्ट्रेशन कराता था, तो उसके कंप्यूटर में तो 10 ही रुपए ही बताता था लेकिन बैंक से पैसा 10 हजार रुपए कट जाता था. दरअसल, गजल ने अपनी वेबसाइट को इस तरह से डिजाइन करवाया था कि 10 रुपए लिखो तो 10 हजार का पेमेंट कट जाता था. बहरहाल, मामले में आरोपी युवती गजल को पुलिस ने भोपाल जेल से प्रोटेक्शन वारंट से उज्जैन ले आई है. साइबर अधिकारी नरेंद्र गोमे ने बताया कि इनकी टीम लीडर सोनल डगर समेत एक अन्य पुलिस की गिरफ्त से दूर है. फिलहाल साइबर सेल के अधिकारी गजल से उज्जैन में और आसपस के क्षेत्रों में की गई ठगी के बारे में जानकारी ले रहे हैं.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...