सुदर्शन स्थापना दिवस विशेष – आखिर क्यों अतिमहत्वपूर्ण है सुदर्शन न्यूज राष्ट्रहित और धर्मरक्षा में . विस्तार से जानिये

क्यों महत्वपूर्ण है सुदर्शन चैनल हिंदुत्व और राष्ट्र के लिए —

सुदर्शन न्यूज की बुनियाद ही धर्म और राष्ट्र की मुखर और प्रखर आवाज़ उठाने के उद्देश्य से रखी गयी थी ….. सुदर्शन चैनल सदा से उन विषयों पर अपनी आवाज़ बुलंद करता रहा जिन विषयो पर बोलना तो दूर , उसके आस पास भी जाने का साहस किसी भी अन्य मे नही रहा … इसके कुछ प्रमुख उदाहरण निम्नलिखित हैं …

१- गोधरा कांड के बाद नकली सेकुलरिज्म के ठेकेदार काफी समय बाद भी तत्कालीन गुजरात के मुख्यमंत्री और वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के दुष्प्रचार और विरोध मे दिन रात एक कर दिए थे तब एकमात्र सुदर्शन चैनल सत्य के साथ खड़ा रहा और तमाम विरोधो के बाद भी केवल वो दिखाता रहा जो सच था ..

२- मालेगाँव विस्फोट के बाद जब कांग्रेस सरकार के सभी घटकों ने मिल कर विदेशी निर्देशों पर पावन पवित्र भगवा को आतंकवाद जैसे घृणित शब्द से जोड़ा तब एकमात्र सुदर्शन चैनल ने इसका यथशक्ति ना सिर्फ़ इसका विरोध किया बल्कि इस मामले मे हुई साज़िश की प्रमुख पीडिता साध्वी प्रगया सिंह ठाकुर से खुद चेयरमैन सुरेश चौहान्के ने जेल जा कर मुलाकात की और इस साजिश मे आरोपित एक एक हिंदू के लिए अपनी मुखर आवाज़ उठाई ……….

३- सुदर्शन चैनल एकमात्र ऐसा चैनल है जिसने ईसाई धर्मांतरण के विरुढ़ आवाज़ उठा कर 18 साल से उड़ीसा की जेल मे बंद दारा सिंह के लिए कार्यक्र्म किया ….

४- एकमात्र सुदर्शन चैनल ही ऐसा चैनल है जिसने कैराना , दादरी, मुज़फ़्फ़रनगर, बंगाल, आसाम दंगो मे तुष्टिकरण से ऊपर आ कर पीड़ित
हिंदुओं का हाल दुनिया के सामने रखा ..

५- सुदर्शन एकमात्र ऐसा चैनल रहा जिसने अपने व्यक्तिगत या व्यवसायिक लाभों को किनारे करते हुए हिंदुत्व के खिलाफ जाने वाली हर राजनैतिक पार्टी या शासनिक प्रशासनिक अधिकारियों का खुला विरोध किया ….

6- जिस ओवैसी और जाकिर नाइक को कभी नेता और कभी धर्मगुरु के नाम से बताया जाता रहा उनका असल सच सिर्फ और सिर्फ सुदर्शन न्यूज ने सबके सामने रखा था और साबित किया था कि वो दंगाई और आतंकी थे.. इसी के चलते एक को समाज ने अस्वीकार कर दिया है और दूसरे के खिलाफ भारत की जांच एजेंसियां विदेशो के सम्पर्क में हैं .

इसके अतिरिक्त भी तमाम ऐसे कार्य जो समाज के सामने अन्य माध्यमो के द्वारा मिथ्या रूपों में लाये जा रहे थे . सुदर्शन ने उसके सच्चे रूप को सबके सामने रखा और कई निराधार अफवाहों को विराम दिया . अभी हाल में ही चंदौली जनपद उत्तर प्रदेश में जब श्री राम के नाम के खिलाफ कट्टरपंथी सजिश चल रही थी तब सिर्फ और सिर्फ सुदर्शन न्यूज ने सच को सामने रखा और अंत में वो सभी आरोप और साजिश निराधार और निर्मूल साबित हुई जिसमे निशाने पर प्रभु श्रीराम का पवित्र नाम और हिन्दू थे .

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW