कभी कमलनाथ ने कहा था – “सरकार बनने दो, निबट लेंगे”.. अब कांग्रेस के ही आनंद शर्मा ने भी कुछ कहा

कभी कुछ ऐसे ही शब्द काँग्रेस के नेता कमलनाथ ने चुनाव से पहले मध्यप्रदेश में कहा था..उन्होंने कहा था कि हमारी कांग्रेस सरकार को आने दो, हम निबट लेंगे..यद्द्पि उसके बाद क्या हुआ या नही ये बाद का विषय है पर मध्यप्रदेश में लगातार भारतीय जनता पार्टी के नेताओ की हत्या हो रही है जो धीरे धीरे बेकाबू होती जा रही हैं ..अभी कमलनाथ के ये शब्द तमाम लोगो के कानों में गूंज ही रहे थे कि अब आया है कांग्रेस के ही बड़े नेता आनंद शर्मा का एक नया बयान..ये बयान सीधे सीधे धमकी के समान है सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों को..यकीनन वो इस बयान को हल्के में नही ले रहे होंगे..

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के ठिकानों पर सीबीआई छापों से नाराज कांग्रेस पार्टी ने अफसरों को चेतावनी दे डाली है। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा, कान खोल कर सुन लो, नई सरकार बनते ही जवाब लेंगे। सरकार बदलेगी, यह तय है। अब ज्यादा समय नहीं बचा है। मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के पूर्व भाजपाई मुख्यमंत्रियों पर भी कई आरोप लगे हैं। जांच एजेंसियों को यह सब दिखाई नहीं पड़ रहा है।

कांग्रेस नेता ने शुक्रवार को एक प्रेसवार्ता में आरोप लगाया है कि मोदी सरकार राजनीतिक स्वार्थों की पूर्ति के लिए जांच एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है। विपक्षी नेताओं पर प्रतिशोध की भावना से झूठे मामले दर्ज कराए जा रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा के खिलाफ डेढ़ साल पहले भी इसी तरह की कार्रवाई की गई थी। जांच में कुछ नहीं निकला। जींद उपचुनाव में प्रचार के आखिरी दिन हुड्डा वहां एक रैली को संबोधित करने जा रहे थे, तभी सीबीआई ने यह छापे मारना शुरू कर दिया।

आनंद शर्मा ने सवाल करते हुए कहा, क्या यह राजनीतिक प्रतिशोध नहीं है। हम उन अफसरों को चेता रहे हैं कि वे सरकार के इशारे पर गैर-कानूनी तरीके से विपक्षी नेताओं के पीछे न लगें। वे समझ लें कि इसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ेगा। सेलेक्ट कमेटी द्वारा सीबीआई निदेशक का चयन न कर पाने के सवाल पर आनंद शर्मा ने कहा कि सरकार ने कमेटी के समक्ष आधे-अधूरे दस्तावेज पेश कर दिए। उसमें किसी भी अधिकारी की पूर्ण जानकारी नहीं थी..

Share This Post