संस्कारों के संरक्षण पर दिल्ली पुलिस गंभीर… बन्द होगी देर रात चलने वाली लेडीज नाईट पार्टी जो बनती थी कई अपराधों की वजह

भारत में महिलाओं की स्थिति में पिछली कुछ सदियों में कई बड़े बदलावों हुए हैं। हमारी पहचान हमारी प्राचीन परंपरा और संस्कारों एवं भारतीय संस्कृति से है। पूरे विश्व को ज्ञान की राह पर चलने के लिए प्रेरित करने वाला देश हमारा भारत ही है। हमारे देश की संस्कृति को विदेशों ने अपनाया लिया है, लेकिन हमारे संस्कारों एवं परंपराओं के समाज में पश्चिमी संस्कृति का प्रचलन बढ़ता जा रहा है, जो चिंता का विषय है। 
आज कल हम लोगों ने पश्चिमी संस्कृति को इस तरह से अपना लिया है कि हम अपने परिवार वालों के साथ रहने बजाय पब्स, बार, रेस्टोरेंट आदि में ज्यादा समय बिताने लगे हैं। महिलाओं का लेट नाइट पार्टी में ज्यादा समय बिताना या फिर देर रात घर आना, ये एक ओर देश में होने वाले क्राइमों को बढ़ावा देता है। क्योंकि इससे अपराधियों को एक मौका मिल जाता है अपराध करने का। लेकिन अब दिल्ली पुलिस इन पब्स, बार और रेस्टोरेंट पर रोक लगाने जा रही है। 
साउथ दिल्ली के डीसीपी ईश्वर सिंह ने बताया कि हौज खास इलाके में पब्स, बार और रेस्तरां आदि में होने वाली लेडीज नाइट पार्टी के कारण वहां पर कानून-व्यवस्था खराब होती है, इसलिए लेट नाइट लेडीज पार्टी के इस कल्चर को जल्द ही बंद कर दिया जायेगा। साथ ही सभी पब्स और बार के मालिकों को इसकी सूचना दे दी जाएगी कि वे लेट नाईट पार्टियों को बंद करें। जानकारी के मुताबिक, इन पब्स में 25 साल से भी कम उम्र की लड़के और लड़कियां शराब पीते हैं और शराब के नशे में आधी रात को घर जाते हैं। 
जिस वजह से अपराध बढ़ने की और गुंजाइश हो जाती है। लेकिन इससे निपटने के लिए साउथ एमसीडी, एक्साइज और दिल्ली पुलिस के लाइसेंसिंग विभाग मिलकर काम करेंगे। जानकारी के मुताबिक, हौज खास विलेज में 44 पब्स, बार और रेस्तरां हैं। इनमें से 36 चल रहे हैं। गौरतलब है कि 5 जुलाई को देर रात पब से लौट रही एक लड़की को किडनैप करने की कोशिश की गई थी लेकिन लड़की की बहादुरी की वजह से अपराधी नाकाम हो गए और वो घटना टल गई।
Share This Post