एन बीरेन सिंह ने कहा, महिलाओं को बराबरी का हक दिलाएगा तीन तलाक विधेयक…

मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने कहा है कि तीन तलाक विधेयककसद महिलाओं को बराबरी का हक और न्याय दिलाने का है. उन्होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय के लिए की गयी इस व्यवस्था से वह बहुत खुश हैं. यह विधेयक मुस्लिम महिलाओं को सशक्त करेगा तथा उन्हें न्याय दिलाएगा. सिंह ने तीन तलाक विधेयक के राज्यसभा में पारित होने पर अपनी खुशी जाहिर की है.

अगर कोई मुस्लिम पति अपनी पत्नी को तीन तलाक देता है तो उसे कानूनन जुर्म माना जाएगा जिसके तहत उसे तीन वर्ष की सजा हो सकती है. पहले यह विधेयक लोकसभा में पेश किया गया था और यह पिछले सप्ताह निचले सदन से पारित हो गया था. संसद के दोनों सदनों से विधेयक पारित होने के बाद अब इसे राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के पास मंजूरी के लिए भेजा जाएगा. उच्चतम न्यायालय ने 2017 में तीन तलाक को गैरकानूनी करार दे दिया गया **था. तीन तलाक विधेयक पारित होने पर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया और कहा कि इस विधेयक के पारित होने बाद अब यह प्रथा इतिहास बन जाएगी.

इसके अलावा त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने राज्य की पीड़ित मुस्लिम महिलाओं को मदद का पूरा भरोसा देते हुए कहा है  कि पीड़ित महिला तीन तलाक के मुद्दे से जुड़े हुए किसी भी समस्याएं को मुझसे मिलकर बता सकती हैं. मैं उनकी समस्याओं को प्राथमिकता के साथ हल करने की कोशिष करूंगा. इसके साथ ही पीड़ित महिलाएं मुख्यमंत्री कार्यालय में फोन (0381-241 5555)  कर के भी जानकारी दे सकती हैं.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW