ट्रिपल तलाक के खिलाफ आरएसएस के अभियान से जुड़ी लाखों मुस्लिम महिलाएं


नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिलने वाले प्रचंड बहुमत के पीछे ट्रिपल तलाक का मुद्दा बताया जा रहा है। आरएसएस से जुड़े मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने ट्रिपल तलाक के विरोध में एक सिग्नेचर कैंपेन चलाया है। जिसको देश भर से दल लाख से ज्यादा लोगों का समर्थन मिला। समर्थकों में ज्यादातर महिलाएं शामिल हैं।

हालांकि, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड इस मुद्दे का विरोध करता रहा है। RSS के प्रमुख नेता और प्रचारक इंद्रेश कुमार का कहना है कि ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर राष्ट्रीयव्यापी चर्चा होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मुस्लिम समाज के लिए जरूरी है कि ट्रिपल तलाक को खत्म करके मुस्लिम समाज में सुधार किया जाए।

MRM के मोहम्मद अफजल ने सिग्नेचर कैंपेन का समर्थन करते हुए कहा कि देश में बदलाव आ रहा है। महिलाएं अपनी आजादी के प्रति जागरुक हो रही हैं। सरकार उनकी दबी हुई आवाज को उठाए इसलिए समर्थन मिल रहा है। मोहम्मद अफजल ने कहा कि बीजेपी की यूपी में हुई बड़ी जीत, देवबंद जैसे मुस्लिम बहुल इलाके में उनका जीत जाना यह दिखाता है कि मुस्लिम महिलओं की आवाज उनके साथ है। इससे साफ होता है कि मुस्लिम महिला बीजेपी के ट्रिपल तलाक पर लिए गए फैसले के साथ है।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share