अब प्राइवेट कंपनियों में काम करने वालों के लिए खुशखबरी.. मोदी सरकार ने किया ये एलान

प्राइवेट कंपनियों में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी है. मोदी सरकार के नये आदेशों के बाद अब प्राईवेट कंपनियों में काम करने वाले किसी भी कर्मचारी की सैलरी 24 हजार रुपये महीने से कम नहीं होगी.

भारतीय रेलवे में काम कर रहे कई पाकिस्तानी जासूस.. बाकायदा आते हैं पाकिस्तान से फोन.. जानिये क्यों उखड़ रही पटरियां और पलट रही ट्रेनें

अगर कोई कंपनी अपने कर्मचारियों को 24 हजार रुपये महीने से कम देती है और इसकी  शिकायत मिलने पर सरकार उस कंपनी के खिलाफ सीधी कार्रवाई कर सकती है. कहने का मतलब यह कि अब कम तनख्वाह पर ज्यादा काम कराने वाली कंपनियों की शामत आने वाली है. कर्मचारी कम तनख्वाह मिलने की शिकायत सीधे नियुक्त सरकारी अधिकारी को कर सकेंगे.

अब ऑनलाइन आयेगा चालान का मेसेज और कार्ड से करना होगा भुगतान..

कार्मिक एवं लोक शिकायत मंत्री जितेंद्र सिंह ने लोकसभा में बुधवार को एक पूरक प्रश्न के जवाब में कहा कि मोदी सरकार ने 2017 में न्यूनतम वेतन कानून में संशोधन किया और ऐसा 65 वर्ष बाद हुआ है. इसे  40 प्रतिशत बढ़ाते हुए 18 हजार रुपये से बढ़ाकर 24 हजार रुपये किया गया है.

पवित्र सावन माह में तेजोमहालय की परिक्रमा कर के आरती करने का एलान करने वाले नेता को शिवसेना ने निकाला

इसके लिए कानून बनाया गया है और जो भी लोग इस कानून का अनुपालन नहीं कर रहे हैं उनकी शिकायत आने पर मामले की जांच करायी जाएगी और दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW