सिर काटने की धमकी देने वाला मूसा बनाने जा रहा है एक नया आतंकी संगठन. लगाना चाहता है कश्मीर में शरिया कानून

श्रीनगर : आतंकी जाकिर मूसा ने अपना नया संगठन बना लिया है। नए संगठन का नाम अभी तय नहीं हुआ है, लेकिन यह इस्लामिक शरिया की बहाली के लिए काम करेगा। सूत्रों के मुताबिक, पिछले दो हफ्तों में मूसा द्वारा जारी ऑडियो संदेश इस ओर इशारा कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर मूसा की तस्वीरें भी वायरल हो रही हैं।

बताया जा रहा है कि कश्मीर में स्थानीय आतंकवादियों और अलगाववादियों के बीच बढ़ते मतभेदों के बीच खुफिया एजेंसियों को यह शक हो रहा है कि सीमा पार बैठे आतंकवादी संगठनों के सरगना घाटी में किसी नये संगठन को खड़ा करने की तैयारी में जुटे हैं, जिनका हिज्बुल मुजाहिदीन के पूर्व कमांडर जाकिर मूसा पर ध्यान केंद्रित होगा।

बता दें कि जाकिर मूसा ने एक बयान जारी करते हुए कहा था कि अगर हिज्बुल मुजाहिदीन मेरी प्रतिनिधित्व नहीं करती तो आज से मैं भी हिजबुल का प्रतिनिधित्व नहीं करता। मूसा ने ये भी कहा था कि हुर्रियत नेताओं के खिलाफ दिए बयान पर वो आज भी कायम है। जाकिर के इस बयान के बाद हिज्ब और अलगाववादी संगठनों में खलबली मच गई। हिज्ब ने जाकिर मूसा के बयान से किनारा कर लिया तो मूसा ने संगठन छोड़ने का एलान कर दिया।

कश्मीर में सक्रिय आतंकी संगठनों की सियासत पर नजर रखने वालों के मुताबिक, जाकिर मूसा की शुरूसे ही लश्कर व जैश से नजदीकियां रही हैं। पिछले सात माह के दौरान उसने कई बार लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद से भी विभिन्न माध्यमों से बातचीत की है। नया संगठन बनाने में लश्कर उसकी मदद कर रहा है। हालांकि, हाफिज सईद ने उसे कश्मीर में लश्कर के ऑपरेशन की कमान सौंपने की पेशकश भी की, लेकिन मूसा ने इसे नामंजूर कर दिया है। 

Share This Post