मैं अपना रही हिंदुत्व और अब इसी में जीना, इसी में मरना… हिन्दू संगठन बोले – “स्वागत है बहन”

मुस्लिम बहनों को इस्लाम के घृणित रूप से अब घृणा होना शुरू हो गया और इसी का नतीजा है कि अब खुल के मुस्लिम बहने सामने आ रही है इस्लाम के खिलाफ और हिन्दू धर्म कबूल कर रही है. आपको बता दे कि शहनवाज का कहना है की इस्लाम में महिलाओं को स्वतंत्रता से जीने का अधिकार नहीं है, वहीं हिन्दू धर्म ही ऐसा है जहां नारी के पूजे जाने का उल्लेख मिलता है.

वे इससे पहले भी जिलाधिकारी को इस बारे में पत्र लिख चुकीं है जिसके बाद उन्हें अपने ही परिवार से मार डालने की धमकी मिली थी. शहनवाज की बात सुनकर जज साहब ने मामले की जांच पुलिस को सौंपी है. सिटी मजिस्ट्रेट पंकज उपाध्याय ने बताया की पहले हम मामले की जांच करेंगे, अगर इसके पीछे कोई दबाव निकलता है, या अगर शहनवाज को मजबूर किया जा रहा है, तो हम कड़ी कार्यवाही करेंगे.

ऐसे ही कई मामले पहले भी सामने आ चुके है कुछ दिन पहले उत्तर प्रदेश के सहारनपुर स्थित दारूल उलूम देवबंद ने गीता के श्लोक गाने वाली लड़की आलिया के खिलाफ फतवा जारी किया था। दारूल उलूम देवबंद ने कहा था और कहा कि गीता का श्लोक पढ़ना इस्लाम के खिलाफ है. आपको बता दे कि इस मामले को हिन्दू संगठनो ने खुल कर समर्थन दिया है और कहा कि स्वागत है बहन हिन्दू धर्म में…

Share This Post

Leave a Reply