श्रीराम की जन्मभूमि पर आत्महत्या कर लेगा एक मुसलमान… अगर फिर से मोदी न आये तो

7 चरणों में हो रहे लोकसभा चुनाव 2019 के लिए 4 चरणों का मतदान हो चुका है तथा देश में सियासी सरगर्मी इस समय पूरे उफान पर है. लोकसभा चुनाव की इसी सियासी तपिश के बीच एक कद्दावर मुस्लिम नेता ने बड़ा देते हुए कहा है कि अगर मोदी जी दोबारा प्रधानमन्त्री नहीं बनते हैं तो वह आत्महत्या कर लेगा. इस मुस्लिम नेता के कहा है कि मोदी जी के प्रधानमंत्री न बनने पर वह प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या जाकर आत्महत्या कर लेगा.

सुरेश चव्हाणके जी की मुहिम बनी राष्ट्रीय मुद्दा,, शिवसेना ने पूरे भारत में बुर्का बैन की मांग की.. “राष्ट्र सर्वोपरि”

मोदी जी के पीएम न बनने पर अयोध्या जाकर आत्महत्या की बात कहने वाले इस मुस्लिम नेता का नाम है सैय्यद वसीम रिजवी. उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सैय्यद वसीम रिजवी ने मंगलवार को एक बयान जारी करते हुए कहा, ‘अगर 2019 में नरेंद्र मोदी दोबारा देश के प्रधानमंत्री नहीं बने तो मैं अयोध्या में राम मंदिर के गेट के पास जाकर आत्महत्या कर लूंगा.’ रिजवी ने कहा कि राष्ट्र हर मजहब से ऊपर होता है. जब भी मैं राष्ट्रहित की कोई बात करता हूं तो कट्टरपंथी मुझे जान से मारने की धमकी देते हैं. वे कहते हैं कि जाने दो मोदी सरकार को हम तुम्हें बोटी-बोटी काट देंगे.

बॉलीवुड से सुखद संकेत.. एक और आदाकारा ने छेड़ी हिन्दू और हिंदुत्व की आवाज

शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष सैय्यद वसीम रिजवी ने कहा कि देशप्रेमियों में नरेंद्र मोदी के लिए मोहब्बत है तो गद्दारों में खौफ है. वह देश के कुशल प्रधानमंत्री हैं. अगर 2019 में किसी और सियासी दल का नेता देशद्रोहियों की मदद से प्रधानमंत्री बन जाता है तो मैं अयोध्या में राम मंदिर के गेट पर जाकर आत्महत्या कर लूंगा क्योंकि देशद्रोहियों के हाथों मरने से अच्छा है, इज्जत की मौत मरना. ज्ञात हो वसीम रिजवी को उनके फायरब्रांड बयानों के लिए जाना जाता है तथा वह इस्लामिक कट्टरपन्थ के खिलाफ अक्सर बयान देते रहते हैं.

साध्वी प्रज्ञा को क्लीन चिट के बाद भी आतंकी कहता एक वर्ग फिर आया एक मार्मिक स्टोरी बना कर केरल से गिरफ्तार दुर्दांत ISIS आतंकी की

इससे वसीम रिजवी ने जनवरी महीने में मदरसा शिक्षा पर सवाल उठाए थे. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर देशभर के मदरसे बंद करने का अनुरोध किया था. उन्होंने पत्र में कहा था कि मदरसों में छात्रों में आंतकी संगठन आईएसआईएस की विचारधारा फैलाई जा रही है. वसीम रिजवी ने इस पत्र में लिखा था कि जल्द ही प्राथमिक मदरसे बंद न हुए तो पंद्रह साल बाद देश का आधे से ज्यादा मुसलमान आईएसआईएस विचारधारा का समर्थक हो जाएगा. साथ ही वसीम रिजवी अयोध्या में श्रीराम मंदिर का समर्थन भी करते हैं.

श्रीलंका के बाद निशाने पर था भारत.. NIA ने अब वो बताया जिसे पहले दिन से बता रहा है सुदर्शन न्यूज़

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post