पत्थरबाज़ों के मुकदमे वापसी का जश्न सैनिको की लाशों से मना रहे हैं गद्दार ..1 और जवान अमरता को प्राप्त हुआ


सरकार की घटने टेकने की नीति का जम कर फायदा उठा रहे हैं ..घुटने टेके सरकार ने और सर कट रहे सेना के जवानों के ..एक के बाद एक आतंकी हमलों से सेना पर एक तरह से बलिदानियों की बाढ़ सी आ गयी है लेकिन सत्ता के शहंशाह पत्थरबाज़ों को माफ कर के खुद से खुद की पीठ थपथपा रहे हैं ..

ज्ञात हो कि पाकिस्तान द्वारा पुंछ में हुई गोलीबारी में अब एक और जवान किशोर कुमार मुन्ना को अमरता प्राप्त हुई है . बलिदानी किशोर कुमार मुन्ना पुंछ की अग्रिम चौकी शाहरपुर पर तैनात थे जिन्हें 4 फरवरी को निशाना बना कर हुए फायर में उधमपुर के अस्पताल में जिंदगी और मौत से लंबी जंग लड़ने के बाद उन्होंने अंतिम सांस ले ली है ..

मूल रूप से बिहार के चौथम बरमाहा गांव के रहने वाले किशोर कुमार का पार्थिव शरीर उनके गांव लाया जाएगा जहां उनका पूरे सैनिक सम्मान के साथ अंतिम संस्कार होगा ..इस बलिदान के बाद जनता भी पूछ रही कि घुटने क्यों टेके आपने ने सरकार जिस से उनके हाथ गर्दन तक पहुच गये जवानों की ..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share