जेल का अधिकारी भी निकला आतंकियों का साथी .. राष्ट्र को धोखा दिया फ़िरोज़ अहमद ने

एक बार फिर से देश को मिला है धोखा एक ऐसे व्यक्ति द्वारा जिसको भारत की सरकार दे रही थी वेतन और किया था उस पर बहुत ज्यादा विश्वास .. लेकिन उसने न सिर्फ अपनी वर्दी के साथ गद्दारी की अपितु उसने देश को भी दिया है धोखा और विश्वास तोड़ा है उन तमाम लोगों का जो उसके ऊपर कर बैठे थे विश्वास . जिस जेल का जिम्मा उसको ये सोच कर सौंपा गया था की वो आतंकियों के खिलाफ कडा एक्शन लेगा . लेकिन वो बन बैठा था उनका ही यार और आखिरकार चढ़ गया NIA के हत्थे .. ये घटना है जम्मू की जिसमे दोषी का नाम है फ़िरोज़ अहमद डार , जो था एक बड़ा अधिकारी . 

विदित हो की एक बार फिर से NIA ने खोज निकला है देश की आम जनता के बीच में छिपे एक ऐसे गद्दार को जो खोखला कर रहा था सिस्टम को . जम्मू कश्मीर में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने दो लोगों को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है, इसमे जम्मू जेल के डिप्टी सुपरिंटेंडेंट भी शामिल हैं। खास कर फ़िरोज़ पर आरोप है कि जेल अधिकारी आतंकियों को मदद देते हैं। दोनों ही आरोपियों की पहचान इशाक पल्ला और फिरोज अहमद लोन के तौर पर हुई है। इशाक शोपिया जबकि अहमद लोन बडगांव का रहने वाले है। फिरोज अहमद लोन मौजूदा समय में जम्मू के अंफाला जेल में सुप्रिटेंडेंट के पद पर तैनात हैं।

एनआईए के अनुसार इन दोनों आरोपीयो ने पाक अधिकृत कश्मीर के दो आतंकियों को देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने में मदद की है। दोनों ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उनके खिलाफ तमाम धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है। आधिकारिक प्रेस रिलीज के द्वारा इस मामले की जानकारी देते हुए कहा गया है कि यह मामले सुहैल अहमद भट और दानिश गुलाम लोन का है, जिन्हें हाल ही में गिरफ्तार किया गया है, ये पीओके में आतंकी गतिविधि को अंजाम देने के लिए जा रहे थे। ये लोग इशाक पल्ला से प्रेरित थे, जोकि एक समय श्रीनगर स्थित सेंट्रल जेल में अलग-अलग मामले में बंद था। इसी ने जेल के भीतर से कई षड़यंत्र रचे थे। जेल एक इतने वरिष्ठ अधिकारी के सामने आये इस प्रकार के कुकृत्य से आम जनता सहम सी गयी है और वो ऐसे अन्य तमाम खाल में छिपे भेडियो को तलाशने की आशा कर रही है . इस घटना ने एक बार फिर से देश को झकझोर दिया और सोचने पर मजबूर कर दिया है की आतंकियों के मानसिक विकृत्त होना का स्तर कितनी दूर तक फ़ैल गया है . 

Share This Post

Leave a Reply