फौज ने घेर लिया है अलीगढ़ यूनिवर्सिटी से भाग कर आतंकी बने मन्नान को ..अब्दुल्ला बोला – सरेंडर कर दो मन्नान

जिस मन्नान को अलीगढ़ में आतंक समर्थक क्लीन चिट दे रहे थे अब वही मन्नान फौज द्वारा घेर लिया गया है ..भारत की सेना लगभग उस स्थान की घेराबंदी कर चुकी है जहां हिजबुल आतंकी मन्नान के छिपे होने की आशंका है .. सेना आर या पर के मूड में दिख रही है इसलिए कश्मीर के आतंक प्रभावित इलाके सोपोर में , जहां ये अभियान चल रहा है , वहां इंटरनेट और मोबाइल नेटवर्क की सुविधा बन्द कर दी गयी है …

सेना के साथ स्थानीय पत्थरबाज़ों से निबटने के लिए पुलिस का भी दस्ता है जो बताया जा रहा कि आतंकी मन्नान के काफी करीब तक पहुच चुका है ..सेना के व्यापक अभियान के बीच अचानक ही पाकिस्तान परस्ती के लिए इस समय सबसे आगे खड़े उमर अब्दुल्ला ने एक अपील जारी करते हुए मन्नान से तत्काल बन्दूक छोड़ कर सेना के आगे सरेंडर कर देने की अपील कर डाली है ..शायद उन्हें पता होगा कि वो जेल से बाद में उसे छुड़ा लेंगे ..

मन्नान की घटना से ये शत प्रतिशत साबित कर दिया है कि आतंक का कारण अशिक्षा किसी भी हालत में नहीं है ..कुछ दिन पहले ही प्रतिबंधित संगठन के प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन ने वानी के आतंकी संगठन में शामिल होने की पुष्टि उस समय की थी जब अलीगढ़ में यूनिवर्सिटी के कुछ तथाकथित नेताओ और सेकुलर शब्द की आड़ में आतंक का खुला समर्थन कर रहे दिग्गजो ने  उसको क्लीन चिट दे डाली थी ।। मन्नान वानी कुपवाड़ा जिले के ताकीपुरा गांव का रहने वाला है. वानी की सोशल मीडिया पर तस्वीरें डाली थीं. तस्वीरों में वह हाथ में एके-47 राइफल लिए नजर आ रहा था. वानी के पिता प्राध्यापक हैं और उसका भाई इंजीनियर है. 

Share This Post

Leave a Reply