कल तक मेहमान शब्द थे व् निभाई जा रही थी धर्म निरपेक्षता.. अब उन्हीं लोगों द्वारा फिर से मिली नरसंहार की धमकी.. बोले- हिन्दू होगा तो मरना तय

विस्थापित कश्मीरी हिंन्दुओं तथा कश्मीरी पंडितों के लिए कश्मीर में कॉलोनी नहीं बनने दी जाएगी. मोदी सरकार सुन ले कि वह जो कश्मीर में हिन्दुओं के लिए अलग से कोनोली बनाने की बात कर रही है तो ऐसा नहीं होने दिया जाएगा. लेकिन अगर सरकार ने ऐसा किया तो इसका अंजाम भुगतना होगा. ये कहना है इस्लामिक आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन का. ये वही हिज्बुल हैं जिसने हाल ही में कहा तथा कि वह अमरनाथ यात्रा पर आये श्रद्धालुओं पर हमला नहीं करेगा.

इस्लामिक आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर ने एक ऑडियो टेप जारी कर कश्मीर में हिंदुओं और कश्मीरी पंडितों के लिए अलग से कॉलोनी बनाने को लेकर धमकी दी है. इस ऑडियो में कहा गया है कि यदि हिंदू कश्मीर में यात्रा के उद्देश्य से आ रहे हैं तो उन्हें कोई तकलीफ नहीं दी जाएगी. ऑडियो में यह भी कहा गया है कि कश्मीरी वहां रहने के लिए आ सकते हैं, लेकिन स्थायी रूप से नहीं. कश्मीर में हिन्दुओं के लिए अलग से कॉलोनी बर्दाश्त नहीं की जाएगी. करीब 15 मिनट का यह ऑडियो इन दिनों सोशल मीडिया और वॉट्सऐप पर वायरल हो रहा है, जिसे हिज्बुल कमांडर रियाज नायकू की तस्वीर के साथ शेयर किया जा रहा है.

ऑडियो में आतंकी रियाज नायकू कह रहा है कि अमरनाथ यात्रियों को डरने की कोई जरूरत नहीं है, अगर वे सिर्फ यात्रा के लिए कश्मीर आ रहे हैं. कथित रूप से ऑडियो में यह भी कहा जा रहा है कि कश्मीरी पंडित भी कश्मीर आ सकते हैं और पैतृक घरों में रह भी सकते हैं, लेकिन एक स्थाई रूप से नहीं. लेकिन उनका इरादा यहां अपनी अलग कॉलोनी बनाने का नहीं होना चाहिए. ऑडियो में सरकार को भी कश्मीरी पंडितों के लिए कोई कॉलोनी नहीं बनाने की चेतावनी दी जा रही है. ऑडियो में कहा गया, ‘हम कश्मीरी पंडितों के लिए अलग से कॉलोनी बनाने की इजाजत नहीं दे सकते हैं। जो उन कॉलोनियों में रहने की कोशिश करेगा, उन्हें माफ नहीं किया जाएगा.’ ऑडिया में कहा गया, ‘हिज्बुल की लड़ाई भारत के जम्मू-कश्मीर पर कब्जे के खिलाफ है. हम उन लोगों के खिलाफ नहीं हैं जो धार्मिक कारणों से कश्मीर आ रहे हैं, लेकिन अगर स्थाई रूप से रहने के लिए आते हैं तो हिज्बुल ऐसा नहीं होने देगा. गौरतलब है कि केंन्द्र की मोदी सरकार कश्मीर से विस्थापित हुए हिन्दुओं की कश्मीर में वापसी के प्रयास कर रही है तथा उनके लिए अलग से कॉलोनी बसाने की योजना पर कार्य चल रहा है.

Share This Post