सेना कि राह चली CRPF… नक्सलियों के खिलाफ “ऑपरेशन ऑल आउट” का ऐलान

देश के नक्सल प्रभावित 10 राज्यों में नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन को नई धार देने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सुरक्षा बलों को नए दिशानिर्देश जारी किए

हैं। छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुई चूक के बाद सुरक्षा बलों को फिर उस तरह की स्थिति का सामना नहीं करना पड़े, इसलिए ये दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।
 बता दें इस साल अप्रैल में सुकमा में नक्सलियों के घात लगा कर किए गए हमले में सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हुए थे।

सड़क निर्माण की सुरक्षा में लगे

ये जवान जब खाना खा रहे थे तब नक्सलियों ने उन पर गोलीबारी कर दी थी।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 13 दिसंबर को लिखित में 10 सूत्री दिशानिर्देश जारी किए गए। नक्सल प्रभावित राज्यों में ऑपरेशन को अंजाम देने वाले सभी

सुरक्षा बलों के लिए इन दिशानिर्देशों का पालन अनिवार्य किया गया है। अब मानव रहित विमान नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन में सुरक्षा बलों का बड़ा मददगार

बनेगा।

साथ ही 360 डिग्री कैमरे के जरिए नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन पर नजर रखी जाएगी।
इतना ही नहीं रात में किसी बड़े ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए थर्मल इमेजर और नाइट विजन डिवाइस का इस्तेमाल बड़े पैमाने पर किया जाएगा। सुरक्षा बलों

की ओर से K 9 टीम के डॉग स्क्वॉड का इस्तेमाल बारूदी सुरंगों की पहचान में अधिक से अधिक किया जाएगा।
ऑपरेशन में सुरक्षा बलों को नुकसान न हो इसके लिए ये 10 सूत्री दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।

1. नक्सल ऑपरेशन के दौरान 24×7 पूरे एरिया को डॉमिनेट करने के निर्देश।

2. चारों तरफ कड़ी निगरानी के बीच हो रोड ओपेनिंग पार्टी (ROP) ड्यूटी।

3. नक्सल एम्बुश को डिटेक्ट करने के लिए पेट्रोलिंग ड्यूटी वाले डॉग्स का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल करने के निर्देश।

4. ROP ड्यूटी करने वाले सभी जवान बीपी जैकेट और हेलमेट पहनें।

5. UAV से नक्सलियों के मूवमेंट पर रखी जाएगी नजर। साथ ही नक्सलियों की रणनीति को समझकर जवान इधर से उधर करें मूवमेंट।

6. ऑपरेशन के समय अतिरिक्त सुरक्षा बल भेजने की ड्रिल को और मजबूत किया जाए।

7. लोकल इंटेलीजेंस को मजबूत करने की हिदायत।

8. थर्मल इमेजर और नाईट विजन डिवाइस एक कंपनी में कम से कम 4 अवश्य मौजूद रहें।

9. 360 डिग्री कैमरा का प्रयोग ऑपरेशन के दौरान अनिवार्य।

10. K-9 डॉग हर कंपनी में पर्याप्त संख्या में रखकर ऑपरेशन किया जाए।
अत: इन 10 तकनीक से नक्सली पर रोक लगाई जाएगी।

Share This Post