जहरीली और अश्लील जुबान के लिए कुख्यात अखिलेश के ख़ास आज़म खान के खिलाफ सुदर्शन न्यूज़ की खबर का बड़ा खबर.. महिला आयोग का नोटिस जारी


उत्तर प्रदेश की रामपुर लोकसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी तथा सिने अभिनेत्री जया प्रदा के खिलाफ बेहद ही अभद्र टिप्पणी करने वाले अखिलेश यादव के करीबी सपा नेता आज़म खान के खिलाफ सुदर्शन न्यूज़ की खबर का बड़ा असर हुआ है. महिलाओं खिलाफ अभद्र तथा अश्लील बयान देने वाले कुख्यात सपा नेता आज़म खान को राष्ट्रीय महिला आयोग ने नोटिस जारी किया है तथा उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग की है.

15 अप्रैल – देवभूमि हिमांचल प्रदेश की स्थापना दिवस की समस्त राष्ट्रप्रेमियों को हार्दिक शुभकामनाएं. जानिए हिमांचल के बारे में वो सच जो यकीनन आप नहीं जानते होंगे

बता दें कि आज़म खान उत्तर प्रदेश की रामपुर लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी हैं. बीजेपी ने आज़म खान के खिलाफ सिने अभिनेत्री जया प्रदा को मैदान में उतारा है. रामपुर में के चुनावी जनसभा के दौरान आज़म खान ने भाषाई मर्यादा की सभी सीमायें लांघते हुए जया प्रदा के खिलाफ बेहद ही अपमानजनक टिप्पणी करते हुए कहा था कि जया प्रदा का अंडरवियर खाकी रंग का है.

अखिलेश के सामने महिला अस्मिता की धज्जियां उड़ाई आजम खान ने और बोला- खाकी रंग का है जया प्रदा का अंडरवियर

जैसे ही सपा के कुख्यात आज़म खान का ये शर्मनाक बयान सामने आया, सुदर्शन ने इस खबर को प्रमुखता से उठाया तथा आज़म खान के खिलाफ चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मनाग की. कल के बिंदास बोल में भी सुदर्शन ने आज़म खान को गिरफ्तार करने तथा उसके चुनाव लड़ने पर रोक लगाने की मांग की थी. आज़म के खिलाफ सुदर्शन का ये अभियान उस समय सफलता तक पहुंचता हुआ दिखाई दिया जब  राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने खान की टिप्पणी को ”बेहद शर्मनाक” करार दिया और कहा कि महिला आयोग उन्हें एक कारण बताओ नोटिस भेज रहा है. खान की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये शर्मा ने ट्वीट किया कि एनसीडब्ल्यू चुनाव आयोग से यह भी अनुरोध करेगा कि उन्हें चुनाव लड़ने से रोक दिया जाए.

एक बड़े नेता, जिन्हें मायावती के मंच पर तब ही चढ़ने दिया गया जब उन्होंने जूते तो दूर मौजे भी उतारे.. फिर भी वो मुस्कुराते रहे

जया प्रदा पर टिप्पणी करते हुए आज़म खान ने कहा था कि रामपुर वालों, उत्तर प्रदेश वालों, हिंदुस्तान वालों! जिसको हम उंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्व कराया. उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लग गए. मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का जो अंडरवियर है वह भी खाकी रंग का है. मैं 17 दिन में पहचान गया, आपको पहचानने में 17 बरस लगे, 17 बरस. जिस दौरान आज़म खान ये अश्लील बयानबाजी कर रहे थे, उस समय अखिलेश यादव भी मौजदू थे लेकिन अखिलेश आज़म खान को चुपचाप सुनते रहे.

जिस JNU में कभी लगे थे “भारत तेरे टुकड़े होंगे” के नारे, अब उसी JNU में पढ़ाये जायेंगे “वीर सावरकर जी”.. सरकार के इस कदम की हर तरफ मुक्त कंठ से प्रशंसा

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...