श्रीलंका के बाद निशाने पर था भारत.. NIA ने अब वो बताया जिसे पहले दिन से बता रहा है सुदर्शन न्यूज़

श्रीलंका में इस्लामिक आतंकियों के सिलसिलेवार बम धमाकों के बाद से ही सुदर्शन देश और दुनिया में बैठे अपने दर्शकों को जो बात बता रहा था, देश में होने वाली किसी अनहोनी से सचेत कर रहा था, अब उस पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA ने मोहर लगा दी है. NIA ने देश को वो बताया है जो श्रीलंका आतंकी हमले के दिन से ही सुदर्शन बताता रहा है.

भारत के कुछ सेकुलरों ने किया था सुदर्शन का विरोध लेकिन श्रीलंका सरकार ने किया अनुसरण.. बैन हुई आतंकी जाकिर की पीस TV

आपको बता दें कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने ISIS मॉड्यूल में केरल के एक आतंकी को गिरफ्तार किया है जो श्रीलंका में हुए आतंकी हमले को मास्टरमाइंड जहरान हाशिम का अनुयायी था तथा श्रीलंका की तरह ही भारत में आतंकी हमले की योजना बना रहा था. केरल के पलक्कड़ का रहने वाला ये आतंकी श्रीलंका की तरह ही भारत के केरल को दहलाने वाला था.  बताया जा रहा है कि वह ऐसा कासरगोड के आईएसआईएस मॉड्यूल के ज़रिये करने वाला था.

बॉलीवुड से सुखद संकेत.. एक और आदाकारा ने छेड़ी हिन्दू और हिंदुत्व की आवाज

NIA द्वारा गिरफ्तार किए गए शख्स की पहचान रियास ए उर्फ रियास अबूबकर उर्फ रियास अबू दुजाना के रूप में की गई है. रिपोर्ट के अनुसार उसने स्वीकार किया है कि वह श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट के मास्टर माइंड ज़हरान हाशिम से प्रेरित था. वह हाशिम के भाषणों और वीडियो को पिछले करीब एक साल से सुन और देख रहा था. इसके अलावा वह विवादित इस्लामिक उपदेशक ज़ाकिर नायक के भी भाषण सुनता था.

साध्वी प्रज्ञा को क्लीन चिट के बाद भी आतंकी कहता एक वर्ग फिर आया एक मार्मिक स्टोरी बना कर केरल से गिरफ्तार दुर्दांत ISIS आतंकी की

जांच के दौरान पता चला कि वह केरल में आत्मघाती हमला करना चाहता था. श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट के बाद एक मामला सामने आया था, जिसमें कहा गया था कि करीब 15 लोग इस्लामिक स्टेट ग्रुप ज्वाइन करने के लिए भारत से बाहर गए हैं. उसी संबंध में एनआईए ने रविवार को तीन संदिग्धों के घरों पर छापा मारा. इन लोगों पर के ऊपर इस्लामिक ग्रुप ज्वाइन करने के लिए देश छोड़ने वाले आरोपियों से संबंध होने का शक है. इसी दौरान रियास ए उर्फ रियास अबूबकर उर्फ रियास अबू दुजाना की गिरफ्तारी की गई, जिसने स्वीकार किया है कि वह हमले को अंजाम देने वाला था.

भारत के कुछ सेकुलरों ने किया था सुदर्शन का विरोध लेकिन श्रीलंका सरकार ने किया अनुसरण.. बैन हुई आतंकी जाकिर की पीस TV

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post