Breaking News:

जिसे उठाया NIA ने उससे मिलने आते थे कई मौलाना… वेल्डिंग से लोहा जोड़ने वाला तैयारी कर रहा था देश तोड़ने की

सैदपुर इम्मा से सुरक्षा एजेंसी NIA द्वारा गिरफ्तार किया गया सईद कहने को तो वेल्डिंग से लोहा जोड़ने का कार्य करता था लेकिन हकीकत में वह हिंदुस्तान को तोड़ने की तैयारी कर रहा था. NIA द्वारा गिरफ्तार किये गये आतंकी सईद को लेकर एक और सनसनीखेज खुलासा हुआ है कि सईद से मिलने के लिए कई मौलाना आते थे. इस जानकारी के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने वेल्डर सईद के करीबी एक मौलाना की तलाश में अमरोहा में डेरा डाल दिया है.

केंद्रीय एजेंसियों को सूचनाएं मिली हैं कि पिछले कुछ महीनों से सईद एक मौलाना के संपर्क में था. मौलाना उससे मिलने अक्सर सैदपुर इम्मा आता था. परिवार के बाकी सदस्य भी मौलाना के बारे में कुछ नहीं जानते. मौलाना की मुलाकात सिर्फ सईद से होती थी. एनआईए और एटीएस की संयुक्त टीम ने बुधवार तड़के नौगांवा सादात थानाक्षेत्र के गांव सैदपुर इम्मा में छापा मारकर वेल्डिंग का काम करने वाले सईद और उसके भाई रईस को गिरफ्तार किया था. टीम ने इस्लामनगर और सैदपुर इम्मा तिराहे पर दोनों भाइयों की वेल्डिंग की दुकान भी सीज कर दी थी.

खुफिया एजेंसियों को पता चला है कि सईद के घर एक ऐसे मौलाना का आना जाना था, जिसे गांव और परिवार के लोग नहीं जानते थे. यह मौलाना कहीं बाहर से आता था और सिर्फ सईद से मिलने के बाद लौट जाता था. मौलाना का नाम, पता और सैदपुर इम्मा में आकर सईद से मिलने का मकसद अभी तक एजेंसियों को पता नहीं चला है. मौलाना को आतंकी हमलों की साजिश रचने के मास्टरमाइंड मुफ्ती सुहैल से भी जोड़कर देखा जा रहा है.

Share This Post