नितिन गडकरी का एक और एलान जिसको सुनकर खुश होंगे माँ गंगा के भक्त


मोदी सरकार के सबसे लोकप्रिय तथा कार्यक्षम मन्त्री माने जाने वाले नितिन गडकरी ने एक ऐसा एलान किया है जिसे सुनकर माँ गंगा के भक्त बेहद खुश हैं तथा गडकरी जी का हार्दिक धन्यवाद कर रहे हैं. केंद्रीय परिवहन, राजमार्ग एवं जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि नमामि गंगे परियोजना के तहत नदियों का साफ करने का काम तेजी से किया जा रहा है. गडकरी जी ने कहा कि मैं वादा करता हूँ कि 2020 गंगा का पानी पीने लायक हो जाएगा.

बता दें कि बुधवार को गढ़ रोड स्थित राधा गोविंद इंजीनियरिंग काॅलेज में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मेरठ में 6300 करोड़ की लागत से बनने वाली विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया. इस दौरान गडकरी जी ने कहा कि मेरठ और दिल्ली के बीच बन रहे एक्सप्रेस-वे का काम अंतिम चरण में पहुंच गया है. 25 अप्रैल से पहले यह एक्सप्रेस-वे जनता के लिए खोल दिया जाएगा. इसी तर्ज पर दिल्ली-मुंबई के बीच दो लाख करोड़ की लागत से एक्सप्रेस-वे बनेगा. इससे दिल्ली से मुंबई केवल 12 घंटे में पहुंचा जा सकेगा.

गडकरी जी ने इस दौरान कहा कि नमामि गंगे योजना के तहत मेरठ की काली नदी समेत देश की 40 नदियों को 26 हजार करोड़ रुपये की लागत से साफ किया जाएगा. मार्च 2020 तक गंगा का पानी पीने लायक बना लिया जाएगा. नितिन गडकरी ने कहा कि यूपी में चल रहे 80 प्रोजेक्ट नमामि गंगे योजना के 11 हजार करोड़ रुपये के 80 प्रोजेक्ट केवल उत्तर प्रदेश में चल रहे हैं. मेरठ के सभी नालों को एसटीपी से जोड़ते हुए साफ पानी को ही नदी में छोड़ा जाएगा. नालों के कचरे से मिथेन गैस निकालकर उससे मेरठ में बसों को चलाया जाएगा. इसके लिए मेरठ के सांसद राजेंद्र अग्रवाल से प्रस्ताव मांगा गया है.

नितिन गडकरी ने कहा कि भविष्य में हवाई मार्ग से बस चलाई जा सकती है. इसके लिए आस्ट्रेलिया की टीम शोध कर रही है. हवाई मार्ग से बस चलाने का खर्च मेट्रो से भी कम आएगा. नदियों से परिवहन की बात करते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली में यमुना नदी पर 14 हजार करोड़ के प्रोजेक्ट पर काम हो रहा है. इससे दिल्ली से आगरा जलमार्ग से होकर यात्री इटावा तक जा सकेंगे. यमुना नदी में 160 प्रतिशत पानी की मात्रा बढ़ाई जाएगी. इस पर तेजी से काम हो रहा है.

इससे पहले नितिन गडकरी और उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने गहर गढ़मुक्तेश्वर से मेरठ तक के एनएच 709ए के चार लेन सड़क निर्माण का शिलान्यास किया. 50 किलोमीटर लंबे इस हाईवे के निर्माण पर कुल 3367 करोड़ रुपये खर्च होंगे. इसके साथ ही मेरठ से नजीबाबाद तक के एनएच 119 के चार लेन सड़क निर्माण का शिलान्यास किया. 54 किलोमीटर लंबे इस हाईवे के निर्माण पर 2120 करोड़ खर्च होंगे. नमामि गंगे कार्यक्रम के अंतर्गत मेरठ शहर में आईएंडडी एवं 214 एमएलडी क्षमता के एसटीपी निर्माण का शिलान्यास किया. इस पर 682 करोड़ रुपये खर्च होंगे. मेरठ-मुजफ्फरनगर खंड पर 207 करोड़ की लागत से अतिरिक्त सुविधाओं के निर्माण कार्य का शिलान्यास किया.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share