उड़ाई जा रही अफवाहें कि क्या करने से हो सकता है चालान और क्या करने से नहीं.. जानिये क्या है सच ?

देश में 1 सितंबर, 2019 से नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हुआ है. नए मोटर व्हीकल एक्ट के बाद चालान राशि में कई गुना इजाफा हुआ है, नए मोटर व्हीकल एक्ट में दंड को बढ़ाने के साथ नई चीजें भी शामिल की गई हैं. ऐसे में कई लोगों को लाखों के चालान कटे हैं और देशभर की पुलिस ट्रैफिक नियमों को लेकर पहले से ज्यादा सख्त हो गई है. वहीं सोशल मीडिया और अन्य जगहों पर ट्रैफिक नियमों को लेकर कई अफवाहें भी सामने आ रही हैं, जिसके चलते लोगों में भ्रम फैल रहा है कि इन चीजों के चलते भी चालान काटा जा सकता है.

सोशल मीडिया पर ऐसे भी मैसेज वायरल हुए कि आधी बांह की शर्ट पहिनकर वाहन चलाने, चप्पल पहिनकर वाहन चलाने पर भी चालान काटा जा रहा है. इन अफवाहों के चलते केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के अपने ऑफिशियल Office Of Nitin Gadkari ट्विटर अकाउंट से फोट शेयर की हैं, जिसमें लिखा है कि अफवाहों से सावधान रहे हैं और नए मोटर व्हीकल एक्ट में इन बातों के लिए चालान काटने का प्रावधान नहीं है.

केंद्रीय मंत्री गडकरी के ऑफिस के ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट में लिखा गया कि अफवाहों से सावधान…! नए मोटर व्हीकल एक्ट में आधी बांह की शर्ट पहनकर गाड़ी चलाने और लुंगी बनियान में गाड़ी चलाने पर चालान काटने का प्रावधान नहीं है. ट्वीट में यह भी कहा गया कि गाड़ी में एक्स्ट्रा बल्ब नहीं रखने, गाड़ी का शीशा गंदा होने और चप्पल पहनकर गाड़ी चलाने पर भी चलान काटने का कोई कानून नहीं है.

केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने स्पष्ट किया है कि–

  • आधी बांह की शर्ट पहहने पर चालान नहीं काटा जाएगा तो इस बात को लेकर निश्चिन्त रहे हैं कि चालान नहीं काटा जाएगा.
  • लुंगी-बनियान में गाड़ी चलाने पर चालान नहीं काटा जाएगा तो इस चीज लेकर डरने की कोई जरूरत नहीं है.
  • गाड़ी में एक्स्ट्रा बल्ब नहीं रखने पर भी चालान काटने का कोई प्रावधान नहीं है.
  • चप्पल पहनकर गाड़ी चलाने पर भी कोई चालान नहीं काटा जाएगा.
  • गाड़ी का शीशा गंदा होने पर भी चालान नहीं काटा जाएगा

इससे पहले नितिन गडकरी ने भी चालान को लेकर अफवाह और भ्रम फैलाने पर कुछ पत्रकारों को घेरा था. गडकरी ने ट्वीट किया था, ‘मुझे खेद है, आज फिर हमारे मीडिया के कुछ मित्रों ने सड़क सुरक्षा कानून जैसे गम्भीर विषय का मजाक बनाया है. मेरा सबसे आह्वान है कि लोगों की जिंदगी से जुड़े इस गम्भीर मसले पर इस प्रकार गलत जानकारी फैलाकर लोगों में भ्रम ना पैदा करें.’

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं..


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share