अयोध्या से पहले कश्मीर से आया शुभ समाचार.. सेना ने मार गिराया दुर्दांत आतंकी हिजबुल कमांडर नसीर चदरू को


भारत का एक बड़ा वर्ग अपने आराध्य और अपने गौरवशाली पूर्वज भगवान श्रीराम के मन्दिर निर्माण की आशा के साथ दिल्ली स्थित सुप्रीम कोर्ट पर नजर गडाए हुए बैठा है लेकिन अचानक ही सबकी नजरे खुद से ही घूम गईं उस कश्मीर की तरफ जिसको अभी हाल में ही भारत सरकार ने बड़े पराक्रम के साथ धारा 370 नाम के कलंक से मुक्त किया था.. एक लम्बे समय से मांग चल रही थी की कश्मीर से सरकारी बंदिशें हटाई जाएँ और वो हटा भी दी गईं लेकिन उसका प्रतिफल इतना सुखद होगा किसी ने सोचा भी नहीं था..

विदित हो की सेना ने एक बार फिर से जांबाजी दिखाते हुए कश्मीर के एक और कलंक व् लम्बे समय से मोस्ट वांटेड आतंकी नसीर चदरू को मार गिराया है . नसीर चदरू इस्लामिक आतंकी दल हिजबुल मुजाहिद्दीन की बिखरी टीम को सम्भालने और संवारने के लिए गद्दारों को जमा करने में लगा हुआ था और साथ में सैनिको के ऊपर कई हमलो में वांछित था.. इसके साथ इसके २ अन्य साथी भी ढेर कर दिए गये हैं जिसके बाद पूरे देश में ख़ुशी की लहर दौड़ गयी है ..

इतना ही नहीं , सेना ने गान्दरबल क्षेत्र से २ आतंकियों को गिरफ्तार भी किया है जो नई पौध में शामिल होने और बड़ा हमला करने की फ़िराक में थे. सेना को इस आतंकी और उसके साथियों की सटीक सूचना अनंतनाग क्षेत्र में मिली जिसके बाद इलाके की घेराबंदी कर दी गई . सेना ने तत्काल इलाके को घेरा और सूचना सही निकली . आतंकी को सरेंडर करने का मौका दिया गया लेकिन उसने गोलियां बरसानी शुरू कर दी जिसका जवाब उसको गोलियों से मिला .. आखिरकार एक लम्बी मुठभेड़ के बाद आतंकी मार गिराया गया.. चदरू के मारे जाने की खबर ने सभी राष्ट्रभक्तो को ख़ुशी दी है ..


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...