हर बात में इंशाअल्लाह कहने वाले ओवैसी ने “जय श्रीराम” पर जताई आपत्ति.. खामोश हैं तथाकथित सेक्यूलर दल

कथित सेक्यूलर राजनीति देश को किस तरफ ले जा रही है कि श्रीराम के देश में ही अब “जयश्रीराम” बोलने पर सवाल किये जाने लगे हैं तथा ये सवाल भी उस इस्लामिक कट्टरपंथी नेता द्वारा किये जा रहे हैं जो अपनी हर बात में इंशाअल्लाह कहता है. सनातन के आराध्य प्रभु श्रीराम को हिंदुस्तान की पहिचान कहा जाता है, उस हिंदुस्तान में जब श्रीराम के नारे लगाने पर आपत्ति जताई जाए, जयश्रीराम बोलने का विरोध किया जाए तब सवाल खड़ा होता है कि आखिर ये कौन सी राजनीति है जो इंशाअल्लाह कहने की तो इजाजत देती है लेकिन जयश्रीराम की नहीं.

जिन केन्द्रीय बलों से सबसे ज्यादा समस्या थी ममता बनर्जी को, उन्हीं के हवाले हुए पश्चिम बंगाल

आपको बता दें कि प्रधानमन्त्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा अयोध्या रैली में जयश्रीराम का उद्घोष करना नफरत की खेती करने वाले हैदराबाद के उन्मादी सांसद तथा AIMIM प्रमुख असदुद्दीन को रास नहीं आया है तथा उसने इसके लिए पीएम मोदी के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है. असदुद्दीन ओवैसी ने चुनाव आयोग से इस मामले में कार्रवाई की मांग की है. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मैं चुनाव आयोग से मांग करता हूं कि उनके (पीएम मोदी) बयान पर नोटिस ले और ये चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है. पीएम मोदी पूरे मुल्क में मुस्लिमों के खिलाफ नफरत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं. चुनाव आयोग को इस मामले में नोटिस लेना चाहिए और कार्रवाई करनी चाहिए.

2 मई – 1908 में आज ही राष्ट्र ने झेली थी कुछ जयचंदों की गद्दारी वरना राष्ट्र पहले ही हो गया होता स्वतन्त्र

ज्ञात हो कि बुधवार को पीएम मोदी ने अयोध्या में एक रैली को संबोधित किया. भाषण की शुरुआत में उन्होंने रैली स्थल को मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की धरती बताया तो अपनी स्पीच का अंत जय श्रीराम के नारे लगवाकर किया. रैली में पीएम मोदी ने कहा था कि ये मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम की भूमि है. ये स्वाभिमान की धरती है. देश में यही स्वाभिमान पिछले 5 साल में और बढ़ा है. हम 130 करोड़ लोगों की भुजाओं को साथ लेकर चले हैं. अब इन्ही भुजाओं की सामर्थ्य पर हम नए भारत का सपना साकार करने की तरफ बढ़ रहे हैं.

एक चायवाला प्रधानमंत्री बना था, अब दूसरा चायवाला बना मेयर.. जानिये संघर्ष की एक और जीवंत कथा

 

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post