पाकिस्तान ने दिखाई दुहेरी क्रूरता एक तरफ आतंकी हमला तो दूसरी तरफ एलओसी पर गोलीबारी

जम्मू- कश्मीर : शनिवार की रात जम्मू- कश्मीर में फिर से आतंकी हमला हुआ जिसमें भारत के एक जवान ने अपना बलिदान दे दिया और भारतीय जवानों ने एक आतंकी को भी मार गिराया. इसके साथ ही भारत के 3 सिविलियन्स की भी मौत हो गई. अतंकिय हमले के समय पाकिस्तान ने भी एलओसी पर गोलीबारी की जिसका भारतीय जवानो ने जवाब दिया. जिस आतंकी को भारत के जवानों ने मारा गिराया है उस पर 2 लाख का इनाम था.

इस आतंकी की पुलिस को काफी समय से तलाश थी. सूत्रों के अनुसार जिस आतंकी को भारतीय जवानों ने मार गिराया है उसका नाम फयाज अहमद अश्वर उर्फ सेथा था जो 2015 से फ़रार चल रहा था और पुलिस को उसकी तलाश थी. सरकार ने उस पर 2 लाख का इनाम भी रखा था. बताया जा रहा है कि ऊधमपुर आतंकी हमले में भी इसका हाथ था जिसके चलते नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) को उसकी तलाश थी।

पुलिस के मुताबिक फ़याज़ लश्कर-ए-तैयबा से मिला हुआ था. बता दें कि एक व्यक्ति वहां मौजूद था उसका कहना है की जब आतंकी पुलिस पर हमला कर रहे थे तो कांस्टेबल ने आपनी जान की परवह किए बगैर उस आतंकी की बन्दुक छीन ली. डीजीपी के मुताबिक एक जवान के साथ 3 सिविलियंस ने भी अपना बलिदान दे दिया है.

आतंकियों ने पुलिस पार्टी पर घात लगाकर हमला किया था. मीर बाज़ार में इस हमले को अंजाम दिया गया.. सूत्रों के मुताबिक किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. बता दें कि कुलगाम में सोमवार को जम्मू-कश्मीर बैंक की कैश वैन पर आतंकियों ने हमला किया था। इसमें पांच पुलिस कॉन्स्टेबल शहीद हो गए थे बैंक के दो अफसर भी मारे गए थे।     

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW