बकरीद से पहले पेटा की ये अपील क्या मानेंगे मुसलमान ?

12 अगस्त ये वो दिन होगा जब इस्लामिक लोग बकरीद मनाएंगे.. बकरीद अर्थात बकरों की कुर्बानी दी जायेगी. लेकिन बकरीद से पहले पेटा ने मुस्लिम समाज के लोगों से एक बड़ी अपील की है लेकिन सवाल यही है कि क्या मुस्लिम पेटा की अपील मानेंगे. प्राप्त हुई जानकारी के मुताबिक़, पेटा ने बकरीद के त्यौहार पर बकरों की ‘क्रूर हत्या’ किये जाने पर पर चिंता जताते हुए लोगों से ‘शाकाहारी’ बनने का अनुरोध किया है.

इसके साथ ही पेटा ने सरकार से यह सुनश्चित करने के लिए कहा है कि बकरों के साथ कोई निर्ममता नहीं बरती जाए. ‘एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स’ (पेटा) ने राजस्थान के अलवर का एक वीडियो जारी किया है, जिसमें निर्ममता से बकरों का बंध्याकरण किया जा रहा है। पेटा के सहायक निदेशक निकुंज शर्मा ने कहा कि बकरीद से ठीक पहले आया वीडियो यह प्रदर्शित करने के लिए जारी किया गया है कि बकरों को चाहे कसाई काटे या कोई अन्य, उन्हें बहुत तकलीफ होती है और वे मरना नहीं चाहते हैं.

उन्होंने कहा कि इसमें दिखाया गया है कि बकरों को जूट की बोरी में डाल कर दो पहिया वाहन पर सामान की तरह ढोया जाता है. पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्री गिरिराज सिंह को लिखे पत्र में पेटा इंडिया ने यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है कि बकरों का बंध्याकरण उन्हें बेहोश कर किया जाए. साथ ही, उन जगहों का निरीक्षण किया जाए, जहां बकरों को मारा जाता है. बता दें कि इस बार 12 अगस्त को बकरीद मनाई जायेगी.

Share This Post