“राष्ट्रवाद” पर छिड़ी बहस के बीच आया पीएम मोदी का बयान.. बताया कि क्या है उनके लिए “राष्ट्रवाद” का मतलब


देश में इस समय राष्ट्रवाद को लेकर बहस छिड़ी हुई है. सत्तारूढ़ बीजेपी ने साफ़ कर दिया है कि राष्ट्रवाद उनके लिए सर्वोपरि है तथा यही उसके लिए सबसे बड़ा मुद्दा है. लोकसभा चुनावों के लिए बीजेपी के मैनिफेस्टो में भी राष्ट्रवाद को प्रथम वरीयता दी गई है. इसके बाद राष्ट्रवाद को लेकर तमाम तरह की बातें की जा रही हैं तथा विपक्ष आरोप लगा रहा है कि बीजेपी तथा पीएम मोदी राष्ट्रवाद के नाम पर भ्रमित कर रहे हैं.

मुसलमानो! बीजेपी को हराना है तो गठबंधन को वोट करो- जमात-ए-इस्लामी .. चुप हैं धर्मनिरपेक्षता के ठेकेदार

राष्ट्रवाद को लेकर छिड़ी बहस के बीच प्रधानमन्त्री मोदी ने बड़ा बयान दिया है. पीएम मोदी ने बताया है कि उनके लिए राष्ट्रवाद ही सर्वोपरि है तथा उनके लिए राष्ट्रवाद का मतलब भारत माता की जय है. एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में पीएम मोदी ने राष्ट्रवाद की परिभाषा समझाते हुए कहा कि इसका मतलब ‘भारत माता की जय’ है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रवाद की परिषाभा व्यापक है और हमारा राष्ट्रवाद जन-जन के कल्याण के लिए है.

सपा-बसपा-कांग्रेस का भरोसा अली में तो हमारा भरोसा बजरंग बली में हैं- योगी आदित्यनाथ

प्रधानमन्त्री मोदी ने कहा कि ष्ट्रवाद का मतलब है ‘भारत माता की जय’. अगर मैं भारत माता की जय बोलता हूं और अगर मेरी भारत माता गंदी है तो फिर वो राष्ट्रवाद है क्या? अगर मैं भारत माता को स्वच्छ करने का अभियान चलाता हूं, तो वो राष्ट्रवाद है कि नहीं? अगर गरीब के पास रहने के लिए घर नहीं है और मैं घर बनाता हूं तो ये राष्ट्रवाद है कि नहीं? अगर मैं भारत माता की जय बोलता हूं लेकिन अगर हमारा गरीब बीमार है और वो अस्पताल तक जाने का इंतजार कर रहा है. वो मौत का इंतजार कर रहा है. अगर आयुष्मान भारत योजना के तहत उसको पांच लाख तक के दवाई की मदद मिलती है तो ये राष्ट्रवाद है कि नहीं?

राष्ट्रवाद को लेकर बीजेपी की आलोचना करने वालों से सवालिया लहजे में उन्होंने कहा कि कि हमारे देश के किसान आधुनिक खेती करें, अन्न उत्पादन करें, अन्न के पूरे दाम पाएं, एमएसपी लागू करूं, लागत का डेढ़ गुना कीमत दूं तो ये राष्ट्रवाद है कि नहीं? देश के जवानों को ताकतवर बनाने के लिए आधुनिक हथियार और सामग्री उपलब्ध करवा सकूं तो वो राष्ट्रवाद है कि नहीं? इसलिए राष्ट्रवाद की परिभाषा व्यापक है. भारत माता की जय इसका मतलब होता है, 130 करोड़ देशवासियों की सपनों की जय.

अखिलेश के खिलाफ बीजेपी से चुनाव लड़ रहे भोजपुरी स्टार निरहुआ के खिलाफ शुरू हुआ उन्माद.. काफिले पर कश्मीरी अंदाज में पत्थरबाजी

प्रधानमंत्री मोदी से पूंछा गया कि कि राष्ट्रवाद के अलावा कौन-कौन से मुद्दे हैं, जिनके आधार पर बीजेपी जनता से वोट मांगने जा रही है? इस पर उन्होंने कहा कि विकास का मुद्दा अहम है जिसे लेकर वो लोगों के बीच जाएंगे. मोदी ने कहा कि हमारा मानना है कि विकास दो पटरियों पर चलता है- सोशल इन्फ्रास्ट्रक्चर और फिजिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर. देश के अंदर बहुत से लोग ऐसे हैं जिनको अभी भी प्राथमिक सुविधाएं पहुंची नहीं हैं. जिसके पास घर नहीं है उनको घर देना, जिसके पास दवाई नहीं है उसको दवाई देना. जिसके पास शिक्षा नहीं है उसको शिक्षा देना स्वास्थ्य सेवाएं आदि. भारत का हर नागरिक सम्मान और निश्चिंतता के साथ जी सके, इस बात का ख्याल रखना हमारी प्राथमिकता है.

जिसका जवाब पसंद नहीं आता उसको ट्विटर पर ब्लॉक कर देती हैं महबूबा.. पहले कपिल मिश्रा और अब एक और

इंटरव्यू में पीएम मोदी ने कहा कि भारत का मिडिल क्लास बहुत बड़ी ताकत है जिसे पिछली सरकारों ने नकारा है. मेरी सरकार की नजर में मिडिल क्लास नीति-नियमों और कानून का पालन करता है, सरकार को टैक्स देता है और सरकार से बहुत कम मांगता है. इस तबके की रक्षा करना हमारी प्राथमिकता है. उन्होंने कहा कि इसी तरह भारत का ग्रामीण अर्थतंत्र है. किसानों की आय दोगुनी करने की बात हमने कही है. इसके साथ ही, किसानों और खेत मजदूरों को 60 साल के बाद पेंशन मिले. सरकार उसके साथ होगी. इस बारे में हम विस्तृत योजना बनाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने विश्वास जताया कि 2014 के मुकाबले अधिक सीटों के साथ बीजेपी जीत हासिल करेगी.

CBI ने बताई लालू की वो चाल जो उन्होंने इस चुनाव में सोच रखी है

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...